आस्ट्रेलिया ने स्कॉटलैंड को 7 विकेट से हराया

आस्ट्रेलिया ने स्कॉटलैंड को 7 विकेट से हराया

होबार्ट : ऑस्ट्रेलिया ने शनिवार को बेलेरीव ओवल मैदान पर खेले गए आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-ए के अपने अंतिम मैच में स्कॉटलैंड को सात विकेट से हरा दिया। इस जीत के साथ ऑस्ट्रेलिया ने अपने ग्रुप में दूसरा स्थान हासिल कर लिया है।

स्कॉटलैंड ने ऑस्ट्रेलिया के सामने जीत के लिए 131 रनों का लक्ष्य रखा था। ऑस्ट्रेलिया की पारी के दौरान दो बार बारिश ने बाधा डाली और मैच रद्द होने का भी खतरा उत्पन्न हुआ लेकिन मौसम साफ होते ही ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने मौके की नजाकत को भांपते हुए ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए 15.2 ओवरों में जीत हासिल कर ली।

कप्तान माइकल क्लार्क (47) नई भूमिका में दिखे। पारी की शुरुआत करने आए क्लार्क ने 47 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए जबकि एरॉन फिंच ने 10 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से 20 रन बनाए। दोनों ने 30 रन जोड़े। इसके बाद शेन वॉटसन (24) और कप्तान ने दूसरे विकेट के लिए 58 रन जोड़े। वॉटसन 88 के कुल योग पर 23 गेंदों का सामना कर चार चौके लगाकर आउट हुए। क्लार्क 92 के कुल योग पर आउट हुए।

तीसरा विकेट गिरने के बाद बारिश आ धमकी और दो मौकों पर खेल में बाधा पहुंचाई। खेल 13.2 ओवर के बाद रुका था। इसके बाद हालांकि जब मौसम खुला तब जेम्स फॉल्कनर (नाबाद 16) और डेविड वार्नर (नाबाद 21) ने ताबड़तोड़ अंदाज में खेलते हुए टीम की जीत पक्की की। वार्नर ने छह गेंदों पर दो चौके और दो छक्के लगाए जबकि फॉल्कनर ने छह गेंदों पर दो चौके और एक छक्का लगाया। दोनों ने 12 गेंदों पर 41 रनों की साझेदारी की।

छह मैचों में यह ऑस्ट्रेलिया की चौथी जीत है। उसे एक मैच में हार मिली है और उसका एक मैच बारिश में धुल गया था। उसके खाते में नौ अंक हैं। 12 अंकों के साथ न्यूजीलैंड इस पूल का लीडर है। स्कॉटलैंड को छह में से एक भी मैच में जीत नहीं मिली।

इससे पहले, मैन ऑफ द मैच चुने गए मिशेल स्टार्क (14-4) और पैट कुमिंस (42-3) की धारदार गेंदबाजी के दम पर ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए स्कॉटलैंड को 130 रनों पर आउट कर दिया। स्कॉटलैंड की टीम 25.4 ओवरों तक ही ऑस्ट्रेलियाई आक्रमण पंक्ति का सामना कर सकी।

स्कॉटलैंड की ओर से मैट माचान ने सबसे अधिक 40 रन बनाए जबकि जोश डेवे ने 26, माइकल लीस्क ने नाबाद 23 और कैलम मैक्लोड ने 22 रनों का योगदान दिया। स्कॉटलैंड के सात बल्लेबाज दहाई तक नहीं पहुंच सके। माचान ने 35 गेंदों का सामना कर छह चौके लगाए जबकि मैक्लॉड ने 19 गेंदों की तेज पारी में पांच चौके लगाए।

डेवे और लीस्क ने 95 रनों पर आठ विकेट गिरने के बाद नौवें विकेट के लिए 35 रनों की साझेदारी की, जो इस टीम के लिए सबसे बड़ी साझेदारी साबित हुई। डेवे ने 35 गेंदों पर चार चौके लगाए जबकि लीस्क ने 11 गेंदों का सामना कर चार बार गेंद को सीमा रेखा के बाहर पहुंचाया। शेन वॉटसन, मिशेल जानसन और ग्लेन मैक्सवेल को भी एक-एक सफलता मिली।