अपने अंतिम मैच में  ब्रैंडन टेलर ने लगाई रिकार्डों की झड़ी

अपने अंतिम मैच में ब्रैंडन टेलर ने लगाई रिकार्डों की झड़ी

ऑकलैण्ड। जिम्बाब्वे के स्टार बल्लेबाज ब्रैंडन टेलर ने भारत के खिलाफ वर्ल्ड कप 2015 के ग्रुप मुकाबले में रिकॉर्ड की झड़ी लगा दी। टेलर ने भारत के खिलाफ टेलर ने 110 गेंद में पांच छक्कों और 15 चौकों की मदद से 138 रन की धमाकेदार पारी खेली। इस मैच में शतक लगाने के साथ ही वे लगातार दो शतक लगाने वाले जिम्बाब्वे के इकलौते क्रिकेटर बन गए। उन्होंने पिछले मैच में आयरलैण्ड के खिलाफ भी सैंकड़ा जमाया था। 

वहीं जिम्बाब्वे के पहले खिलाड़ी है जिन्होंने वर्ल्ड कप में 400 से ज्यादा रन बनाए। उन्होंने भारतीय पारी में 121 रन बनाते ही यह उपलब्घि हासिल की। वहीं वर्ल्ड कप 2015 में सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में वे दूसरे स्थान पर आ गए। उन्होंने छह मैच में 72.16 की औसत से 433 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने दो शतक और एक अर्धशतक लगाया। वे जिम्बाब्वे की ओर से सर्वाधिक शतक लगाने वाले बल्लेबाज भी है। उनके नाम वनडे में आठ सेंचुरी है। 

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यह उनका अंतिम मुकाबला था। वे अब तीन साल के लिए इंग्लैण्ड में काउंटी क्रिकेट खेलेंगे और इस दौरान जिम्बाब्वे की ओर से क्रिकेट नहीं खेल पाएंगे। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 167 वनडे खेले और 34.82 की औसत से 5258 रन बनाए।