विश्व कप: भारत का अश्वमेघ अभियान जारी

विश्व कप: भारत का अश्वमेघ अभियान जारी

आयरलैंड को एकतरफा मुकाबले में 8 विकेट से हराया 

हैमिल्टन। आईसीसी विश्व कप-2015 के ग्रुप-बी के अपने मुकाबले में भारत ने आयरलैंड को एकतरफा मुकाबले में 8 विकेट से हरा दिया। भारतीय ओपनरों ने जबरदस्त शुुरुआत करते हुए जीत का आधार 15 ओवरों में ही तैयार कर दिया था। ओपनिंग बल्लेबाजों रोहित शर्मा और शिखर धवन ने जोरदार शुरुआत करते हुए 23 ओवर में ही 174 रनों की साझेदारी की।

शिखर धवन ने शानदार सेंचुरी जमाते हुए 100 रनों की पारी खेली। उन्हें स्टुअर्ट थॉमसन ने आउट किया। शिखर की ये वनडे में 8वीं सेंचुरी है। इस दौरान धवन खास तौर पर ज्यादा आक्रामक नजर आए और मैदान के चारों तरफ चौकों-छक्कों की बरसात कर दी। हालांकि रोहित शर्मा भी 64 रन पर स्टुअर्ट थॉमसन का शिकार बन गए। इसके बाद विराट कोहली और अंजिक्य रहाणे ने 8 विकेट रहते 37वे ओवर में भारत को जीत दिला दी। कोहली ने 44 और रहाणे ने 33 रनों की पारी खेली।

इससे पहले नियाल ओब्रायन (75) और कप्तान विलियम पोर्टरफील्ड (67) की बेहतरीन अर्धशतकीय पारियों की बदौलत आयरलैंड ने आईसीसी विश्व कप-2015 के ग्रुप-बी के अपने पांचवें मैच में भारत के सामने 260 रनों का लक्ष्य रखा। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए आयरिश टीम ने 49 ओवरों में सभी विकेट गंवाकर 259 रन बनाए। तीन मैचों में भारत के खिलाफ यह आयरलैंड का अब तक का सबसे बड़ा योग है।

पोर्टरफील्ड ने पॉल स्टर्लिंग (42) के साथ पहले विकेट के लिए 15 ओवरों में 89 रनों की साझेदारी की। यह आयरिश पारी की सबसे बड़ी साझेदारी साबित हुई। इस साझेदारी के दौरान पोर्टरफील्ड और स्टर्लिग ने भारतीय तेज गेदबाजों की जमकर खबर लेते हुए मैदान के हर कोने में बेहतरीन शॉट्स लगाए।

मजबूरी में कप्तान महेंद्र सिंह धौनी को स्पिनरों को आजमाना पड़ा। उनका यह कदम सफलता लेकर आया। स्टर्लिग का विकेट 89 रन के कुल योग पर रविचंद्रन अश्विन ने लिया जबकि 92 के कुल योग पर सुरेश रैना ने एड जॉयस (2) को बोल्ड किया।

स्टर्लिग ने 41 गेंदों की पारी में चार चौके और दो बेहतरीन छक्के लगाए। इसके बाद हालांकि पोर्टरफील्ड और नियाल ने तीसरे विकेट के लिए 53 रन जोड़कर नुकसान की भरपाई की। पोर्टरफील्ड 145 के कुल योग पर मोहित शर्मा की गेंद पर उमेश यादव के हाथों लपके गए। आयरिश कप्तान ने 93 गेंदों का सामना कर पांच चौके और एक छक्का लगाया।

कप्तान की विदाई के बाद एंडी बालबिर्नी (24) ने नियाल के साथ मिलकर पारी को संवारने का काम किया। इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 61 रन जोड़े। बालबिर्नी का विकेट 206 के कुल योग पर गिरा। उन्होंने 24 गेंदों पर तीन चौके लगाए। आयरलैंड ने हालांकि इसके बाद 32 रनों के कुल योग पर छह विकेट गंवा दिए।

पारी के 39वें से 46वें ओवर के बीच आउट होने वाले बल्लेबाजों में केविन ओब्रायन (1), गैरी विल्सन (6), नियाल, स्टुअर्ट थाम्पसन (2) और जार्ज डॉकरेल (6) शामिल हैं। नियाल ने आयरलैंड के लिए भारत के खिलाफ सबसे बड़ी पारी खेलते हुए 75 गेंदों पर सात चौके और तीन छक्के लगाए।

भारत की ओर से मोहम्मद समी ने तीन और रविचंद्रन अश्विन ने दो विकेट लिए। इसके अलावा सुरेश रैना, उमेश, मोहित और रवींद्र जडेजा को एक-एक सफलता मिली।

भारत इस ग्रुप में अपने अब तक के सभी चार मैच जीतकर शीर्ष पर है। वह क्वार्टर फाइनल में स्थान पक्का कर चुका है लेकिन अंतिम-8 दौर में जगह बनाने का आयरलैंड का प्रयास अभी भी जारी है। भारत को हराकर वह इसमें सफल हो सकता है।