डॉक्यूमेंट्री विवाद: बीबीसी पर हो सकती है कार्रवाई

डॉक्यूमेंट्री विवाद: बीबीसी पर हो सकती है कार्रवाई

फिल्म में कुछ भी गलत नहीं: निर्भया के माता-पिता 

नई दिल्‍ली : दिल्‍ली में हुए निर्भया गैंगरेप कांड पर बनी विवादित डॉक्यूमेंट्री को बीबीसी ने आखिरकार ब्रिटेन में आखिरकार प्रसारित कर ही दिया। इस डॉक्यूमेंट्री पर भारत सरकार के रोक और प्रसारित नहीं करने के आदेश के वावजूद बीबीसी ने इसका प्रसारण कर दिया। इस घटना के बाद देश के लोगों में खासा रोष है। भारत की बेटी नाम से डॉक्यूमेंट्री बनाने वाली ब्रिटिश फिल्मकार लेस्ली उडविन मुश्किल में पड़ सकती हैं। सूत्रों के अनुसार, इस डॉक्यूमेंट्री के प्रसारण के बाद भारत सरकार अब बीबीसी के खिलाफ कार्रवाई करने पर विचार कर रही है।

उधर डॉक्यूमेंट्री विवाद पर निर्भया के पिता ने कहा, मैं देश से बढ़कर नहीं हूं। अगर उन्होंने फैसला किया है तो सही ही होगा, हालांकि फिल्म में कुछ भी गलत नहीं है। फिल्म समाज को आइना दिखाती है। अगर जेल में दोषी ऐसी बात करता है तो बाहर आकर क्या करेगा, लेकिन अगर देश ने ऐसा फ़ैसला लिया है तो हमें देश के साथ रहना होगा। मुझे लगता है कि सभी को यह फिल्म देखनी चाहिए। प्रतिबंध से फिल्म के बारे में उत्सुकता जगेगी। लोग किसी भी कीमत पर फिल्म देखना चाहेंगे।

संसद में हुए बवाल पर पिता ने कहा कि संसद में बात करने से कोई फायदा नहीं है। गुनाहगारों को अब तक सजा क्यों नहीं मिली। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की जा रही। ये बताने वाले वो कौन होते हैं कि महिलाएं क्या पहनें और क्या करें? बेटी पढ़ाओ अभियान कैसे सफल होगा, जब बेटिया जीवित ही नहीं रहेंगी?

गौरतलब है कि पहले बीबीसी ने 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर इस डॉक्यूमेंट्री का प्रसारण करने का फैसला किया था, लेकिन भारत में इस मसले पर उठे विवाद के बीच उसने इसका प्रसारण पहले ही करने का फैसला किया। बीबीसी ने कहा है, इससे दर्शकों को जल्द से जल्द यह प्रभावशाली वृत्तचित्र देखने का अवसर मिलेगा।

India