मुसलमान घरों में अदा करें नमाज, लॉकडाउन का सख्ती से करें पालन: मौलाना अरशद मदनी

मुसलमान घरों में अदा करें नमाज, लॉकडाउन का सख्ती से करें पालन: मौलाना अरशद मदनी

नई दिल्ली: सतर्कता और जागरूकता ही एक मात्र तरीका है कोरोना जैसी महामारी से बचने का। जमीयत उलेमा हिंद कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने की सभी से गुजारिश करती है और इस दौरान सभी से खुले दिल से गरीबों और बेसहाय लोगो की मदद करने कि अपील भी करती है।

मौलाना अरशद मदनी ने कहा कि इस वक़्त देश कठिनाईयो से गुजर रहा है और सभी को एकजुट होकर कोरोना जैसी महामारी से लड़ना होगा. नमाज अदा करने को लेकर मौलाना मदनी ने कहा सम्पूर्ण देश में इस वक़्त लॉकडाउन है इसलिए मुसलमानों को मस्जिदों के बजाय अपने अपने घरों में नमाज अदा करनी चाहिए और मस्जिद में इमाम सहित केवल चार लोग (इमाम, मुअज्जिन, खादिम) ही जुमे की नमाज पढ़े। जुमा के अलावा इमाम, खादिम, मुअज्जिन अजान देकर मस्जिद में पाचो वक़्त की नमाज जमात के साथ अदा करे और बाकी लोग अपने अपने घरों में नमाज पढ़े।

India