यूपी में लॉकडाउन के दौरान पान-मसाले पर लगा बैन

यूपी में लॉकडाउन के दौरान पान-मसाले पर लगा बैन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को पान मसाले पर प्रतिबंध लगा दिया। कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने मद्देनजर इस पर रोक लगाई गई है। अपर मुख्य सचिव (गृह एवं सूचना) अवनीश कुमार अवस्थी ने यहां संवाददाताओं से कहा, "कल मुख्यमंत्री जी ने आदेशित किया था कि पान मसाले को बैन कर दिया जाए ।"

उन्होंने बताया कि इक्कीस दिन के लॉकडाउन की अवधि में पान मसाले पर प्रतिबंध रहेगा। वहीं, कार्यालय आयुक्त, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, उत्तर प्रदेश की ओर से जारी आदेश में कहा गया कि कोविड-19 वैश्विक महामारी का संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है।

इसकी रोकथाम के लिए पूरे प्रदेश में 25 मार्च से बंद घोषित किया गया है। पान मसाला खाकर थूकने या पान मसाले का पाउच छोटा होने के कारण उसका उपयोग करने पर भी कोविड-19 महामारी के संक्रमण फैलने की संभावना को ध्यान में रखते हुए अग्रिम आदेशों तक इस पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाया जाता है।

उत्तर प्रदेश में मंगलवार को कोरोना वायरस के चार और मामले सामने आए थे। इस प्रकार अब तक ऐसे मामलों की संख्या बढ़कर 37 हो गई है। राज्य सरकार द्वारा जारी बयान में बताया गया कि मंगलवार को कोरोना पॉजिटिव के चार ताजा मामले सामने आये।

प्रदेश में मंगलवार तक कुल 37 लोग इस वायरस से संक्रमित थे। इनमें से आठ आगरा के, तीन गाजियाबाद के, 11 नोएडा के, आठ लखनऊ और एक-एक लखीमपुर खीरी, मुरादाबाद, वाराणसी, कानपुर, पीलीभीत, जौनपुर और शामली के हैं।

अस्पतालों में किए गए इंतजामों की चर्चा करते हुए प्रमुख सचिव ने बताया कि इस समय 2800 आइसोलेशन बेड हैं जिन्हें जल्द ही बढ़ाकर 11 हजार से अधिक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम जरूरी पड़ने पर निजी अस्पतालों की मदद ले सकते हैं।

प्रसाद ने बताया कि कोरोना टेस्टिंग इस समय छह जगहों पर हो रही है। केजीएमयू, बीएचयू, एसजीपीजीआई, मेरठ मेडिकल कॉलेज, कमांड लखनऊ में जांच चल रही है। गोरखपुर और सैफई में जल्द ही जांच केंद्र शुरू हो जाएगा।