कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में एसबीआई, सालाना लाभ का 0.25 प्रतिशत हिस्सा करेगा खर्च

कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में एसबीआई, सालाना लाभ का 0.25 प्रतिशत हिस्सा करेगा खर्च

भारतीय स्टेट बैंक ने देश में कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में मदद के लिए अपने वार्षिक लाभ (वित्त वर्ष 2019-20) का 0.25 प्रतिशत हिस्सा खर्च करने की घोषणा की है। महामारी कोविड -19 से लड़ने के लिए इस्तेमाल होने वाले फंड को एसबीआई के सीएसआर फंड में से खर्च किया जाएगा। कॉरपोरेट मामलों के मंत्रालय द्वारा एक सीएसआर गतिविधि के रूप में कोविड -19 के लिए सीएसआर निधियों को खर्च करने की अधिसूचना के अनुरूप बैंक ने यह कदम उठाया है। बैंक कोविड -19 से संबंधित विभिन्न गतिविधियों के लिए इस फंड का उपयोग करेगा और मुख्य रूप से इस राशि को वंचित वर्ग के लोगों के लिए स्वास्थ्य देखभाल संबंधी कार्यों पर खर्च करेगा। इस काम में बैंक स्वास्थ्य देखभाल पेशेवरों और उद्योग के लोगों का सहयोग भी लेगा। इस दौरान निवारक स्वास्थ्य देखभाल और स्वच्छता और आपदा प्रबंधन सहित स्वास्थ्य सेवा को बढ़ावा देने के लिए उठाए जाने वाले कदमों का विशेष ध्यान रखा जाएगा। एसबीआई के चेयरमैन श्री रजनीश कुमार ने कहा, ‘‘यह राष्ट्र के एकजुट होने का समय है। हम एसबीआई में इस महत्वपूर्ण अवधि के बीच भारत के लोगों और समुदायों के लिए सर्वोत्तम संभव तरीके से अपना समर्थन जारी रखेंगे। मैं सभी जिम्मेदार कॉर्पोरेट नागरिकों से आगे आने का आग्रह करता हूं कि वे न केवल पूरे स्टाफ, उनके परिवारों और आसपास के लोगों के लिए सभी एहतियाती निवारक उपाय करें, बल्कि उन साथी देशवासियों का समर्थन करने के लिए भी उदारता से योगदान करें, जिन्हें इन अभूतपूर्व कठिन घड़ी में वित्तीय मदद की जरूरत है।‘‘