निवेशकों का सब्र टूटा, शेयर मार्किट में आया भूचाल

निवेशकों का सब्र टूटा, शेयर मार्किट में आया भूचाल

मुंबई: देश में कोरोना संकट के गहराने और लॉकडाउन की हालत से घबराए निवेशकों का सब्र अब टूटने लगा है। पिछले कई दिनों से बाजार से पूंजी निकालने की होड़ में लगे निवेशकों द्वारा सोमवार को की गई बड़ी बिकवाली से शेयर बाजार में ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई। BSE का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स तथा नैशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी ऐतिहासिक गिरावट के साथ बंद हुआ।

सेंसेक्स के इतिहास में पहली बार 3934.72 अंकों (13.15%) की गिरावट दर्ज की गई और यह 25,981.24 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी भी 1,135.20 अंकों (12.98%) की बड़ी गिरावट के साथ 7,610.25 पर बंद हुआ।

दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 27,900.83 का ऊपरी स्तर तथा 25,880.83 का निचला स्तर छुआ। वहीं, निफ्टी ने 8,159.25 का उच्च स्तर और 7,583.60 का निम्न स्तर छुआ। बीएसई पर सभी 30 कंपनियों के शेयर लाल निशान पर बंद हुए, जबकि एनएसई पर भी सभी 50 कंपनियों के शेयरों में बिकवाली देखी गई। निफ्टी के मिड कैप तथा स्मॉल कैप शेयरों में ऐतिहासिक गिरावट दर्ज की गई है।

कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के बीच आज शेयर बाजार का कारोबार फिर इतना प्रभावित हुआ कि शुरुआती घंटे में ही बेंचमार्क इंडेक्स पर लोअर सर्किट लग गया। सर्किट लगने के बाद रुका कारोबार फिर शुरू हो गया। ट्रेडिंग दोबारा शुरू होने के बाद गिरावट और बढ़ी और शुक्रवार की क्लोजिंग के मुकाबले सेंसेक्स 3200 अंक नीचे गिर गया। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का सेंसेक्स 10 पर्सेंट नीचे आ गया, जिसकी वजह से शेयर बाजार का कारोबार 45 मिनटों के लिए रोकना पड़ गया।