विराट नहीं बाबर की तरह बनना चाहता है यह पाकिस्तानी बल्लेबाज़

विराट नहीं बाबर की तरह बनना चाहता है यह पाकिस्तानी बल्लेबाज़

लाहौर: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के युवा खिलाड़ी हैदर अली ने पाकिस्तान सुपर लीग के इस सीजन में शानदार प्रदर्शन किया था और इसके बाद उनकी तुलना विराट कोहली से होने लगी है। मौजूद समय में हर खिलाड़ी विराट कोहली की तरह बनना चाहते है, लेकिन हैदर उनकी तरह नहीं बनना चाहते हैं। 19 साल के हैदर अली चाहते हैं कि उनकी तुलना विराट कोहली से नहीं, बल्कि बाबर आजम से की जाए।

हैदर अली ने कहा, 'एक बल्लेबाज कभी अपने रोल मॉडल की तरह नहीं बन सकता, लेकिन खुद को बेहतर कर सकता है और उनकी तरह शॉट्स खेल सकता है। मैं खुद को इस हद तक बेहतर बनाना चाहता हूं कि लोग मुझे बाबर आजम कहें न कि कोहली, क्योंकि बाबर के पास अच्छे शॉट्स हैं।'

हालांकि इसके साथ ही हैदर ने कहा कि वह विराट कोहली के अच्छे गुणों को सीखते रहना चाहते हैं। उन्होंने कहा, 'मैं कोहली नहीं बन सकता, लेकिन अभ्यास के माध्यम से उनके जैसे शॉट्स विकसित कर सकता हूं। मैं हैदर अली हूं, इसलिए मैं केवल हैदर अली बन सकता हूं।

बाबर आजम से अपनी पहली मुलाकात पर हैदर ने कहा कि मैं प्रथम श्रेणी टूर्नामेंट के दौरान उनसे मिला और उन्होंने मुझे अपनी बल्लेबाजी के बारे में सुझाव दिया। लाहौर में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में भी उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला। उन्होंने पीएसएल के दौरान मेरा आत्मविश्वास बढ़ाया और मुझे सलाह दी कि मैं रन बनाता रहूं और बाकी बचाकर अल्लाह को छोड़ दूं।'

हाल ही में पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने हैदर अली की जमकर तारीफ की थी और कहा था कि वह बाबर आजम की बराबरी कर सकते हैं या उन्हें भी पीछे छोड़ सकते हैं।

बता दें कि हैदर अली ने इस सीजन में पाकिस्तान सुपर लीग में पेशावर जाल्मी के लिए खेलते हुए जोरदार प्रदर्शन किया और 9 मैचों में 158.27 के स्ट्राइक रेट और 29.87 के औसत से 239 रन बनाए। 19 वर्षीय अली इस सीजन में पीएसएल में अर्धशतक लगाने वाले सबसे युवा बल्लेबाज बने थे।