दिल्ली में बुरी तरह के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीसी चाको का इस्तीफा

दिल्ली में बुरी तरह के बाद कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी पीसी चाको का इस्तीफा

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद दिल्ली कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको ने इस्तीफा दिया है। चुनाव आयोग की ओर से घोषित अंतिम नतीजों के मुताबिक आप ने 53.57 फीसदी मतों के साथ कुल 62 सीटों पर जीत दर्ज की है। भाजपा को 38.51 प्रतिशत मत और आठ सीटों पर जीत मिली। वहीं, कांग्रेस लगातार दूसरी बार दिल्ली विधानसभा में अपना खाता नहीं खोल सकी।

इससे पहले बुधवार को ही पीसी चाको ने आम आदमी पार्टी (आप) की जीत में कांग्रेस के वोटरों का योगदान बताया। उन्होंने कहा, 'आप को दिल्ली में उन्हीं लोगों से वोट मिला है जो कभी कांग्रेस को अपना मत दिया करते थे। साल 2013 में दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के समय में ही कांग्रेस पार्टी का पतन शुरू हो गया था। जिसका फायदा आप को मिला।'

पीसी चाको ने एएनआई को दिए अपने बयान में आगे कहा कि कांग्रेस के पतन के दौरान आप पार्टी का उदय हुआ। जिसने पूरे कांग्रेस वोट बैंक को छीन लिया। इसके बाद हम इसे कभी वापस नहीं पा सके। यह अभी भी आप के साथ बना हुआ है। इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली में वापसी का भरोसा भी जताया। चाको के मुताबिक कांग्रेस दिल्ली में बड़ी वापसी करेगी।

हालांकि, चाको ने प्रधानमंत्री और गृह मंत्री के नेतृत्व में हुए दिल्ली में जहरीले प्रचार को जनता द्व्रारा नकारे जाने पर खुशी जताई। इनके अलावा कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने भी कांग्रेस की हार को स्वीकार करते हुए वापसी का भरोसा दिलाया।