जनरल क़ासिम सुलैमानी की मुख़बरी करने वाले नेटवर्क का पता चला

जनरल क़ासिम सुलैमानी की मुख़बरी करने वाले नेटवर्क का पता चला

तेहरान: इराक़ के सुरक्षा सूत्रों ने बताया है कि बग़दाद हवाई अड्डे के अंदर अमरीका के लिए काम करने वाले एक जासूसी नेटवर्क ने जनरल क़ासिम सुलैमानी और जनरल अबू महदी अलमुहन्दिस के कारवां पर, आतंकवादी अमरीकी सेना के हवाई हमले में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है।

इराक़ के सुरक्षा सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि उक्त जासूसी नेटवर्क ने जनरल क़ासिम सुलैमानी के आने और उनके साथ शहीद होने वाले जनरल अबू महदी अलमुहन्दिस के कार्यक्रम की सूचना आतंकवादी अमरीकी सेना को दी थी।

इस रिपोर्ट के अनुसार इनमें से दो लोगों का संबंध बग़दाद हवाई अड्डे के सुरक्षा दल से था और दो लोग सीरिया के दमिश्क़ हवाई अड्डे पर एक हवाई कंपनी के कर्मी के रूप में काम करते थे।

ज्ञात रहे कि जनरल क़ासिम सुलैमानी जो इराक़ी सरकार के निमंत्रण पर बग़दाद गये थे, 3 जनवरी को बग़दाद हवाई अड्डे के निकट आतंकवादी अमरीकी सेना के हवाई हमले में शहीद हो गये थे। उनके साथ इराक़ी स्वयं सेवी बल के डिप्टी कमान्डर जनरल अबू महदी अलमुहन्दिस और आठ अन्य लोग भी अमरीका के सरकारी आतंकवाद में शहीद हो गये थे।