चुनावी सभा में कम भीड़ देख अमित शाह का चढ़ गया पारा

चुनावी सभा में कम भीड़ देख अमित शाह का चढ़ गया पारा

चतरा, झारखण्ड: बीजेपी अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री अमित शाह कल झारखंड के चतरा में एक चुनावी सभा को संबोधित करने पहुंचे थे लेकिन वहां कम भीड़ देखकर वो पार्टी के स्थानीय नेताओं और कार्यकर्ताओं पर नाराज हो गए। उन्होंने मंच पर ही सभी की क्लास लगा दी और सख्त लहजे में पूछा कि क्या 15-20 हजार की भीड़ जमा कर विधायक बन जाओगे? शाह ने मंच से अपने भाषण में कहा कि मुझे बेवकूफ मत बनाओ, मैं भी बनिया हूं और इतना गणित जानता हूं कि इतनी सी भीड़ से कोई विधायक नहीं बन सकता।

बीजेपी अध्यक्ष ने भाषण के दौरान कहा, “देखो भाई, ये 10-15 हजार लोगों की भीड़ से जीत जाएंगे क्या? जीत सकते हैं? नहीं-नहीं भाई, नहीं जीत सकते। मुझे भी गणित पता है। मैं भी बनिया हूं। मुझे बेवकूफ मत बनाओ आप। एक रास्ता बताऊं, करोगे क्या? मोदी जी को आशीर्वाद दोगे? फिर से रघुवर सरकार बनाओगे? रघुवर ने फोन दिया है न तो दिखाओ और वादा करो कि 25-25 लोगों को फोन करोगे। मामा को, मामी को, चाचा को, चाची को, फुआ को, फूफी को, दादा को दादी को, भाई को, भाभी को यानी कुल 25 लोगों को फोन करना है और उन्हें कहना है कि कमल पर बटन दबाओ।”

अमित शाह ने भाषण के अलावा मंच पर मौजूद तमाम बीजेपी नेताओं को भी रैली में कम भीड़ जुटाने पर हड़काया और उन्हें भी कहा कि इतनी कम भीड़ में चुनाव नहीं जीत सकते हो। जब शाह पार्टी नेताओं को यह झिड़की दे रहे थे तब मंच का माइक ऑन था और सबी लोगों तक ये बात पहुंच गई। बाद में उन्होंने अपने भाषण में लोगों से यही बात कही लेकिन उन्होंने इस अवसर को लोगों से वादा लेने के रुप में तब्दील कर लिया। उन्होंने लोगों से अधिक से अधिक लोगों द्वारा बीजेपी को वोट दिलवाने की अपील करने को कहा।

बता दें कि राज्य में पहले चरण में 30 नवंबर को वोट डाले जाने हैं। पहले चरण में चुनाव प्रचार के आखिरी दिन अमित शाह ने चतरा के अलावा गढ़वा में भी चुनाव प्रचार किया। वहां भी बीजेपी अध्यक्ष को भीड़ के तौर पर निराशा हाथ लगी। वहां भी लोगों की भीड़ बहुत कम थी। पिछले हफ्ते भी लातेहार और लोहरदगा में 10 से 15,000 लोगों की ही भीड़ जुटी थी। माना जा रहा है कि बीजेपी अध्यक्ष मतदाताओं का यह रुख देखकर नाराज हैं। राजनीतिक जानकारों के मुताबिक हालिया महाराष्ट्र चुनावों में सत्ता से बेदखली और पार्टी की हुई किरकिरी से भी बीजेपी अध्यक्ष आहत महसूस कर रहे हैं।