2025 तक 5 ट्रिलियन इकॉनोमी मुश्किल: पूर्व RBI गवर्नर

2025 तक 5 ट्रिलियन इकॉनोमी मुश्किल: पूर्व RBI गवर्नर

नई दिल्ली: भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर सी रंगराजन ने गुरुवार को कहा कि भारत को एक विकसित देश बनने के लिए 22 वर्षों तक निरंतर विकास की आवश्यकता होगी। आरबीआई के पूर्व गवर्नर ने कहा कि वर्तमान विकास दर पर भारत 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बन जाएगा ये कोई सवाल ही नहीं है। उन्होंने कहा कि लोग 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था के बारे में बात कर रहे हैं। आज भारत की अर्थव्यवस्था 2.7 ट्रिलियन अमरीकी डालर की है और हम इसे दोगुना करने की बात कर रहे हैं। 2025 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लिए देश को 9 प्रतिशत की वार्षिक वृद्धि दर से आगे बढ़ने की जरूरत है। ऐसा करना मुमकिन नहीं है।

सी रंगराजन ने देश की वर्तमान आर्थिक स्थिति पर IBS-ICFAI बिजनेस स्कूल द्वारा आयोजित 7 वें यस्स्वामी स्मृति व्याख्यान में कहा कि आप पहले ही दो साल खो चुके हैं। इस साल इसमें छह प्रतिशत की वृद्धि होने वाली है और अगले वर्ष भी यह लगभग सात प्रतिशत होगी। इसके बाद अर्थव्यवस्था में तेजी आ सकती है। उन्होंने कहा कि दिलचस्प बात यह है कि, आप अगर 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था तक पहुंच भी जाते हैं तो भारत में प्रति व्यक्ति आय जो वर्तमान में 1800 यूएस डालर है से बढ़कर 3600 यूएस डालर पहुंच जाएगी। फिर भी, भारत को निम्न-मध्यम आय वाला देश कहा जाएगा।

2002 में पद्म विभूषण से सम्मानित अर्थशास्त्री ने कहा कि भारत को अगर एक उच्च मध्यम आय वाला देश बनाना है तो प्रति व्यक्ति आय 3800 यूएस डालर करनी पड़ेगी जिसके लिए अभी कुछ और साल लगेंगे। एक विकसित देश की परिभाषा वह है जिसकी प्रति व्यक्ति आय 12000 यूएस डालर है। भारत को यहां तक पहुंचने के लिए 22 साल तक प्रतिवर्ष 9 प्रतिशत की दर से विकास करना होगा। हमारे सामने कार्य अत्यधिक चुनौतीपूर्ण है। हमें जल्द से जल्द मौजूदा मंदी से बाहर निकलने की जरूरत है।