करतारपुर साहिब: भारत ने पाकिस्तान से VVIP's के लिए मांगी उच्च स्तर की सुरक्षा

करतारपुर साहिब: भारत ने पाकिस्तान से VVIP's के लिए मांगी उच्च स्तर की सुरक्षा

नई दिल्ली: पाकिस्तान स्थित करतारपुर गलियारे का इस सप्ताह नौ नवंबर को उद्घाटन होना है। इससे पहले भारत ने करतारपुर गुरुद्वारा दरबार साहिब जाने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त की है। उसने पाकिस्तान से कहा है कि भारतीय वीवीआईपी को उच्चतम स्तर की सुरक्षा प्रदान की जाए।

करतारपुर जाने वाले पहले जत्थे में वीवीआईपी लोगों में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी व 150 सांसद शामिल हैं। वहीं, 575 भारतीय श्रद्धालु श्रद्धालु पहले जत्थे में गुरुद्वारा दरबार साहिब जा रहे हैं।

गुरुद्वारा ननकाना साहिब उस स्थान पर है, जहां गुरु नानक देव का जन्म हुआ था। वर्ष 2019 को उनके 500वें प्रकाश पर्व या जयंती वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। गुरु नानक देव की 550वीं जयंती 12 नवंबर को है और इससे पहले नौ नवंबर को करतारपुर गरियारे का उद्घाटन किया जाएगा।

इधर, करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन से पहले पाकिस्तान की ओर से रिलीज किये गये एक वीडियो में खालिस्तानी नेता रहे भिंडरांवाला को दिखाये जाने पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि वे पहले दिन से इस बारे में आगाह कर रहे थे कि यहां भी पाकिस्तान की कोई चाल छुपी हो सकती है।

पाकिस्तान के सूचना और प्रसारण मंत्रालय की ओर से सोमवार को करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन को लेकर वीडियो जारी किया गया था जिस पर ये विवाद मचा है। दरअसल, पाकिस्तान की ओर से जो वीडियो जारी किया गया है उसके एक क्लिप में अलगाववादी और खालिस्तानी नेता जरनैल सिंह भिंडरांवाला, मेजर जनरल शाबेग सिंह और अमरीक सिंह की तस्वीरें नजर आ रही हैं।

India