महाराष्ट्र: कांग्रेस के बाहरी समर्थन से शिवसेना-NCP बदल सकती है सत्ता समीकरण

महाराष्ट्र: कांग्रेस के बाहरी समर्थन से शिवसेना-NCP बदल सकती है सत्ता समीकरण

मुंबई : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने संकेत दिए कि वह शिवसेना के साथ ढाई-ढाई साल के कार्यकाल बांटने को तैयार है. इस बारे में पार्टी के मुखिया शरद पवार मंगलवार को मुंबई में शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के सामने प्रस्ताव रख सकते हैं. दरअसल, सोमवार को राकांपा नेता शरद पवार ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की और उसके बाद मुंबई लौट गए. मंगलवार को शिवसेना ने फिर दोहराया है कि मुख्यमंत्री उनकी पार्टी से ही होगा.

शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा, महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री शरद पवार नहीं होंगे. महाराष्ट्र के बारे में फैसला महाराष्ट्र में लिया जाएगा, मुख्यमंत्री शिवसेना से ही होगा. महाराष्ट्र की राजनीति बदल रही है, न्याय के लिए लड़ाई में हम ही जीतेंगे.

शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत ने कहा है कि अगला मुख्यमंत्री शिवसेना से होगा. उन्होंने कहा, महाराष्ट्र का चेहरा और राजनीति बदल रही है, आप देखेंगे। जिसे आप 'हंगामा' कहते हैं, वह 'हंगामा' नहीं है, बल्कि न्याय और अधिकारों की लड़ाई, जीत हमारी होगी.

महाराष्ट्र में बहुमत का आंकड़ा 145 का है. शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस को मिलाकर 154 सीटें हो रही है. शिवसेना छोटी पार्टियों और निर्दलीयों से समर्थन के उम्मीद हैं. अगर एनसीपी-शिवसेना मिलकर सरकार बनाएं तो कांग्रेस बाहर से समर्थन कर सकती है.

India