अर्थव्यवस्था की रीढ़ है कृषि: योगी आदित्यनाथ

अर्थव्यवस्था की रीढ़ है कृषि: योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कृषि देश और प्रदेश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। किसानों को खुशहाल करके ही हम देश की समृद्धि कर सकते हैं। सहकारिता आन्दोलन जहां-जहां सफल हुआ है, वहां सम्पन्नता आयी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने किसानों की आय को दोगुना करने का जो संकल्प लिया है, उस संकल्प को पूरा करने में सहकारिता की महत्वपूर्ण भूमिका है। उत्तर प्रदेश जैसे राज्य में जहां छोटी-छोटी जोत है, वहां सहकारिता के माध्यम से ही उन्नति हो सकती है।

मुख्यमंत्री ने यह विचार आज यहां उ0प्र0 कोआॅपरेटिव बैंक लि0 के अपने आई0एफ0एस0 कोड के माध्यम से आर0टी0जी0एस0/एन0ई0एफ0टी0 सुविधा के शुभारम्भ अवसर पर व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि परिवर्तन को स्वीकार करना ही प्रकृति है। तकनीक से जुड़कर ही सहकारिता को गति दी जा सकती है। उ0प्र0 कोआॅपरेटिव बैंक द्वारा भारतीय रिजर्व बैंक की केन्द्रीय भुगतान प्रणाली की सीधी सदस्यता प्राप्त करने के पश्चात यह सुविधा प्रारम्भ की गयी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उ0प्र0 कोआॅपरेटिव बैंक एवं जिला सहकारी बैंकों की कुल 1,287 शाखाओं में आर0टी0जी0एस0 एवं एन0ई0एफ0टी0 की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए स्वयं का प्लेटफाॅर्म विकसित करना एक जनोपयोगी प्रयास है। इससे खाताधारकों को गुणवत्तापरक सुविधा प्राप्त हो सकेगी। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने प्रोक्योरमेन्ट पाॅलिसी को अपनाया है, जिससे किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ दिया जा रहा है। यह लाभ उनके खाते में आर0टी0जी0एस0 पद्धति से दिया जाता है। उन्होंने कहा कि किसानों की फसली ऋण माफी में कोआॅपरेटिव बैंक ने महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया।

Lucknow, Uttar Pradesh, India