हरियाणा: जेजेपी की सारी मांगें मांगने को तैयार हुड्डा

हरियाणा: जेजेपी की सारी मांगें मांगने को तैयार हुड्डा

नई दिल्ली: हरियाण में अगली सरकार के गठन की कोशिशों के बीच कांग्रेस के सीनियर नेता और पूर्व सीएम भूपेंद्र हुड्डा ने कहा है कि उन्हें दुष्यंत चौटाला की सभी मांगे मंजूर हैं। हुड्डा ने कहा कि दुष्यंत ने जो भी बात रखी हैं वो उनके भी घोषणापत्र में है। हुड्डा ने कहा कि दुष्यंत की अगर कोई और मांग भी है तो वे उस पर विचार के लिए तैयार हैं। हुड़्डा ने साथ ही कहा कि दुष्यंत अगर उनके साथ आते हैं तो सरकार में उन्हें पूरा सम्मान दिया जाएगा।

दुष्यंत चौटाला के अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में 'कॉमन मिनिमम प्रोग्राम' की बात पर हुड्डा ने कहा, 'सबकुछ हमारे भी घोषणापत्र में है, फिर वह चाहे पेशन की योजना की बात हो या फिर हरियाणा के लोगों के लिए 75 प्रतिशत नौकरी के आरक्षण की बात, अगर उनके पास कोई और सुझाव है तो हम उसके लिए भी तैयार हैं। अब सबकुछ उन पर निर्भर है।'

दुष्यंत चौटाला ने इससे पहले कहा कि उन्होंने किसी 'मजबूत और और स्थिर' के साथ रहने का फैसला किया है। माना जा रहा है कि 'मजबूत और और स्थिर सरकार' से दुष्यंत का मतलब बीजेपी से जुड़ाव का हो सकता है। दुष्यंत ने कहा, 'सभी बातों को ध्यान में रखते हुए अभी हमने ये फैसला लिया है कि हम किसी मजबूत और स्थिर के साथ रहेंगे। हम किसी का भी समर्थन कर सकते हैं। अभी भी इस बारे में हमारी किसी से बात होनी बाकी है।'

दिल्ली में अपने विधायकों के साथ बैठक के बाद दुष्यंत ने कहा, 'अभी तक हमने किसी से बात नहीं की है क्योंकि राष्ट्रीय कार्यकारिणी अभी एजेंडे को लेकर स्पष्ट नहीं है। अब हमें ये जिम्मेदारी मिली है और हम लोगों से बात करेंगे। उम्मीद है कि अगले कुछ घंटों या कुछ दिनों में अच्छा समाचार मिलेगा।'

दुष्यंत ने साथ ही ये भी कहा कि मजबूत सरकार बनाने की चाबी अभी भी जेजेपी के ही पास है। बता दें कि जेजेपी ने हरियाणा में 10 सीटें जीती हैं। वहीं, सरकार में रही बीजेपी के खाते में केवल 40 सीट गई है। हालांकि, ऐसी भी अटकलें लग रही हैं कि बीजेपी निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार बना लेगी।