भारत ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को IPL से निकालने की धमकी देकर पाक दौरे से रोका: फवाद चौधरी

भारत ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को IPL से निकालने की धमकी देकर पाक दौरे से रोका: फवाद चौधरी

नई दिल्‍ली: श्रीलंका के 10 मुख्य खिलाडियों के पाकिस्तान जाने से इंकार के बाद पाकिस्‍तान के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने भारत पर गंभीर आरोप लगाया है| फवाद ने ट्वीट किया, 'जानकार खेल कमेंटेटरों ने मुझे कहा कि भारत ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को धमकी दी है कि अगर वह पाक दौरे पर जाने से इंकार नहीं करते तो फिर उन्‍हें आईपीएल से बाहर कर दिया जाएगा। यह वास्‍तव में खराब, रणनीति है। खेल से लेकर अंतरिक्ष तक की कौमपरस्‍ती ऐसी है, जिसकी हमें कड़ी निंदा करनी चाहिए। भारतीय खेल प्राधिकरण की तरफ से यह वाकई तुच्‍छ कदम है।' बता दें कि श्रीलंका के 10 दिग्‍गज खिलाड़ियों ने पाकिस्‍तान दौरे पर जाने से मना कर दिया था। इसमें लसिथ मलिंगा और एंजेलो मैथ्‍यूज जैसे दिग्‍गजों का नाम शामिल है।

इस पर पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड ने प्रतिक्रिया दी 'जिस स्थिति से श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड जूझ रहा है हम उसको समझते हैं और हम जानते हैं कि उनका बोर्ड खिलाड़ियों को दौरे पर आने के लिए बाध्य नहीं कर सकता।' पीसीबी अधिकारी ने आगे कहा, 'अगर ये दौरा सफल रहता है, तब आप सोचिए कि श्रीलंकाई बोर्ड या फिर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड कैसे आईसीसी टेस्ट चैंपियनशिप को पाकिस्तान में खेलने से इनकार करेंगे। कोई श्रीलंकाई खिलाड़ी आए या ना आए लेकिन हकीकत ये है कि श्रीलंकाई क्रिकेट टीम इस महीने पाकिस्तान दौरे पर आ रही है और बोर्ड को सिर्फ इससे मतलब है।'

श्रीलंकाई क्रिकेट टीम 25 सितंबर को कराची पहुंचेगी जहां वे तीन वनडे मैच खेलेगी और उसके बाद वे तीन टी20 मैचों की सीरीज खेलने लाहौर जाएंगे। इस दौरे को पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट दोबारा शुरू करने की दिशा में अहम कदम के रूप में देखा जा रहा है। श्रीलंका ने अक्टूबर 2017 में पाकिस्तान में टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेला था। तब परेरा ने टीम की अगुआई की थी लेकिन इस बार उन्होंने बाहर रहने का फैसला किया है।