अगस्त के पहले हफ्ते में कांग्रेस को मिलेगा नया अध्यक्ष

अगस्त के पहले हफ्ते में कांग्रेस को मिलेगा नया अध्यक्ष

नई दिल्ली: राहुल गांधी के कांग्रेस अध्यक्ष पद से त्यागपत्र देने के बाद से ऊहापोह में फंसी कांग्रेस अब अगस्त के प्रथम सप्ताह में नए अध्यक्ष का चयन करेगी और वह गांधी परिवार से नहीं होगा. हालांकि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, पूर्व केंद्रीय मंत्री शशि थरूर और संगठन महासचिव के.सी. वेणुगोपाल जैसे नेताओं ने प्रियंका गांधी को अध्यक्ष बनाए जाने की मांग की है.

गहलोत-खड़गे-वासनिक के नाम: अध्यक्ष पद के लिए पार्टी में जिन नामों पर मंथन चल रहा है, उनमें अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे, मुकुल वासनिक के अलावा कुछ युवा नेताओं के नाम हैं. सूत्रों ने कहा कि चूंकि राहुल गांधी नए कांग्रेस अध्यक्ष को चुने जाने के फैसले से अलग हो गए हैं, इसलिए पार्टी संसदीय दल की नेता सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी से परामर्श के बाद ही नए अध्यक्ष के नाम पर निर्णय होगा.

सूत्रों ने कहा कि अगस्त के पहले सप्ताह में कार्यसमिति की बैठक संभावित है, इसलिए 31 जुलाई को पार्टी महासचिवों और राज्य प्रभारियों बैठक में अध्यक्ष पद के साथ अन्य राजनीतिक मुद्दों पर भी चर्चा हो सकती है.

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रियंका को अध्यक्ष पद के लिए सही पसंद बताया। अमरिंदर ने कहा, 'पार्टी की बागडोर अपने हाथों में लेने के लिए प्रियंका बिल्कुल सही पसंद होंगी. लेकिन, यह कार्यसमिति (सीडब्ल्यूसी) पर निर्भर है. सीडब्ल्यूसी ही फैसले के लिए अधिकृत है. यदि ऐसा होता है तो मुझे भरोसा है कि उनको पूरी पार्टी का समर्थन मिलेगा.' वहीं, शशि थरूर ने कहा, 'प्रियंका गांधी अध्यक्ष पद के लिए सबसे बेहतर उम्मीदवार हो सकती हैं, क्योंकि वे करिश्माई व्यक्तित्व की धनी हैं.'

राजीव गांधी जयंती पर राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम: कांग्रेस के सभी महासचिव और राज्यों के प्रभारी 31 जुलाई को 20 अगस्त को देशभर में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के 75वीं जयंती मनाने के कार्यक्रम की तैयारियों पर चर्चा करेंगे. बैठक में जयंती संबंधी कार्यक्रमों बड़े पैमाने पर मनाने की रूपरेखा तैयार की जाएगी.

सूत्रों ने कहा कि संभवत: दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में होनेवाला मुख्य समारोह ऐसा होगा कि उसकी छाप राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पड़े. सूत्रों ने बताया कि राष्ट्रव्यापी कार्यक्रमों में राजीव गांधी के योगदान एवं उपलब्धियों के बारे में युवा पीढ़ी को बताया जाएगा.