संस्कृति विश्वविद्यालय को मिला  बेस्ट एम्प्लायर का असोचेम अवार्ड

संस्कृति विश्वविद्यालय को मिला बेस्ट एम्प्लायर का असोचेम अवार्ड

मथुरा: संस्कृति विश्वविद्यालय को बेस्ट एम्प्लायर का असोचेम अवार्ड होटल ली मेरिडियन में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के राज्य मंत्री माननीय श्री रतन लाल कटारिया द्वारा दिया गया। इस अवसर पर संस्कृति विश्वविद्यालय के तरफ से उप कुलाधिपति श्री राजेश गुप्ता एवं एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री पी सी छाबड़ा ने अवार्ड को माननीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय मंत्री के शुभ हाथों से प्राप्त किया। विविधता और समावेशन पर आयोजित एक दिवसीय कांफ्रेंस एवं अवार्ड्स कार्यक्रम में भारत की अग्रणी उद्योगों की एसोसिएशन असोचेम ने विभिन्न अग्रणी संस्थाओं तथा विश्वविद्यालयों को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं तथा समर्पित योगदान के लिए अवार्ड प्रदान किया ।

कुलाधिपति श्री सचिन गुप्ता ने संस्कृति विश्वविद्यालय के सभी सदस्यों को अवार्ड प्राप्त करने के अवसर पर बधाई सन्देश में कहा कि अवार्ड अतीत में किये गए कार्यों एवं दायित्वों का समर्पित भावना के साथ निर्वहन करने का सुखद प्रतिफल है और भविष्य में हमें दुगुनी ज़ज़्बे एवं शिद्दत के साथ हर क्षेत्र में कार्य करने के लिए उत्प्रेरक के रूप में भी कार्य करता रहेगा। उप कुलाधिपति श्री राजेश गुप्ता ने अपने विशेष सन्देश में कहा कि संस्कृति विश्वविद्यालय समाज के सभी वर्गों के लये उच्च स्तरीय शिक्षा एवं कौशल प्रदान करते रहने के लिए प्रतिबद्ध है और भविष्य में भी प्रतिबद्ध रहेगी ताकि संस्कृति विश्वविद्यालय समता मूलक समाज की स्थापना में अपना महत्व पूर्ण योगदान निर्बाध गति से देती रहे।

एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर श्री पी सी छाबड़ा ने कहा कि संस्कृति विश्वविद्यालय द्वारा प्राप्त यह अवार्ड संस्कृति विश्वविद्यालय द्वारा प्राप्त पूर्व में प्राप्त विभिन्न अवार्ड्स की शृंखला में एक नया मुकाम है जोकि संस्कृति विश्वविद्यालय को आने वाले समय में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए प्रेरित करती रहेगी। कुलपति डॉ.राणा सिंह ने कार्यरत सभी शिक्षकों एवं अन्य कर्मियों को धन्यवाद एवं बधाई देते हुए कहा कि संस्कृति विश्वविद्यालय को बेस्ट एम्प्लायर का असोचेम अवार्ड उनके द्वारा किये गए उत्कृष्ट कार्यों की वजह से ही मिला है और आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास भी है कि वे भविष्य में भी पूर्ण समर्पण भाव से अध्यापन एवं उत्थान कार्यक्रम में समर्पित रहेंगे।

Uttar Pradesh, India