शक के दायरे में शंकर की चोट, कल खिलाड़ियों को पिला रहे थे पानी

शक के दायरे में शंकर की चोट, कल खिलाड़ियों को पिला रहे थे पानी

नई दिल्ली: आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप 2019 से इंडियन स्‍क्‍वॉड से ऑलराउंडर विजय शंकर बाहर हो गए. भारतीय क्रिकेट बोर्ड की ओर से जारी बयान में बताया गया कि शंकर की एड़ी में चोट लगी है जिसके चलते वे आगे नहीं खेल पाएंगे. ऐसे में वे वर्ल्‍ड कप से बाहर हो गए हैं. आईसीसी ने उनकी जगह बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल को स्‍क्‍वॉड में शामिल करने की अनुमति दे दी है. अग्रवाल मिडिल ऑर्डर के बल्‍लेबाज होने के साथ ही ओपनिंग की जिम्‍मेदारी भी संभाल सकते हैं. कहा जा रहा है कि वे रोहित शर्मा के साथ सलामी जोड़ी बनाएंगे और केएल राहुल नंबर 4 पर बल्‍लेबाजी के लिए आएंगे. मजेदार बात यह है कि मयंक तो टीम इंडिया की स्‍टैंडबाई लिस्‍ट में भी शामिल नहीं थे.

इन सबके बीच एक सवाल गहरा रहा है कि विजय शंकर को अचानक से इतनी गंभीर चोट कैसे लगी? और इंग्‍लैंड के खिलाफ मैच में मैदान में ड्रिंक्‍स ले जा रहे थे तब क्‍या वे चोटिल नहीं थे? टीम मैनेजमेंट की उनकी चोट पर खामोशी और अचानक से उनके बाहर होने की खबर इस तरफ इशारा करती है इंडियन टीम के मैनेजमेंट का शंकर से भरोसा उठ गया था. ऐसे में एक योजना के तहत शंकर को स्‍वदेश रवाना किया गया.

इंग्‍लैंड के खिलाफ मैच में टॉस के वक्‍त टीम इंडिया के कप्‍तान विराट कोहली ने बताया था कि विजय शंकर को हल्‍की सी चोट है. ऐसे में उनकी जगह ऋषभ पंत को प्‍लेइंग इलेवन में जगह दी गई है. बता दें कि विजय शंकर को अभ्‍यास सत्र के दौरान जसप्रीत बुमराह की गेंद पर चोट लगी थी.

इस चोट के बाद शंकर ने प्रैक्टिस सेशन छोड़ दिया था. यह घटना भारत और अफगानिस्‍तान के मैच से पहले हुई थी. हालांकि इसके बाद भी शंकर अफगानिस्‍तान और वेस्‍ट इंडीज दोनों टीमों के खिलाफ मैच में टीम इंडिया में शामिल थे. इनमें विजय शंकर बल्‍ले से छाप छोड़ने में नाकाम रहे थे वहीं गेंदबाजी में तो उन्‍हें विराट कोहली ने मौका ही नहीं दिया.

खबरों के अनुसार, विजय शंकर को दोबारा चोट लगी है. लेकिन भारतीय टीम मैनेजमेंट या बीसीसीआई की ओर से किसी ने भी नहीं बताया कि शंकर को दोबारा चोट कब लगी. अगर इंग्‍लैंड के मैच से पहले तो किस समय. क्‍योंकि एक दिन पहले प्रेस कांफ्रेंस में कप्‍तान विराट कोहली ने कहा था कि शंकर अच्‍छा खेल रहे हैं और बड़ी पारी उनसे ज्‍यादा दूर नहीं है.

टॉस के वक्‍त विजय शंकर का नाम चोट की वजह से प्‍लेइंग इलेवन से बाहर था. हालांकि बाद में वे मैदान में इंडियन टीम के लिए ड्रिंक्‍स ले जाते दिखे थे. ऐसा एक बार नहीं बल्कि कई बार हुआ था.

पूर्व क्रिकेटर मुरली कार्तिक ने भी इस तरफ इशारा किया था. उन्‍होंने ट्वीट किया था, 'यदि विजय शंकर की एड़ी में हल्‍की चोट है और इस वजह से वह नहीं खेल रहे हैं तो वह ड्रिंक्‍स लेकर कैसे दौड़ रहे हैं. इस काम के लिए कोई और व्‍यक्ति नहीं है क्‍या.'

विजय शंकर के पहले सलामी बल्‍लेबाज शिखर धवन वर्ल्‍ड कप से बाहर हो गए थे. उनके अंगूठे में बॉल लगने के चलते हल्‍का फ्रेक्‍चर हुआ था. टीम मैनेजमेंट ने पहले तो इस चोट को छुपाने की कोशिश की थी.

टीम मैनेजमेंट की ओर से बताया गया था कि धवन की चोट गंभीर नहीं है और वह नॉकआउट मैचों से पहले ठीक हो जाएंगे. ऐसा बयान दो-तीन बार आया. विकेटकीपर बल्‍लेबाज ऋषभ पंत को उनके कवर के रूप में बुलाया गया. लेकिन बाद में अचानक से बताया गया कि धवन चोट से उबर नहीं पाएंगे. ऐसे में पंत से उनका रिप्‍लेस किया गया.

शंकर की चोट पर टीम मैनेजमेंट के बयानों में बदलाव कई सवाल खड़े करता है. दिलचस्‍प बात यह भी है कि विजय शंकर जो कि मिडिल ऑर्डर के बल्‍लेबाज हैं उनकी जगह ओपनर मयंक अग्रवाल को रिप्‍लेसमेंट के रूप में चुना गया है. टीम इंडिया को इस समय नंबर चार पर समस्‍या हो रही है. इस कंडीशन में विजय शंकर के रिप्‍लेसमेंट के रूप में अंबाती रायडू और अजिंक्‍य रहाणे का दावा ज्‍यादा मजबूत था. रायडू तो इस वर्ल्‍ड कप के शुरू होने के पहले तक नंबर 4 पर ही बल्‍लेबाजी कर रहे थे. उन्‍हें बाहर किए जाने के फैसले ने वैसे भी चौंकाया था.