चांद पर जा रहे हैं, यह कहना बंद करे नासा: ट्रम्प

चांद पर जा रहे हैं, यह कहना बंद करे नासा: ट्रम्प

वॉशिंगटनः अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को ट्वीट किया कि अंतरिक्ष एजेंसी नासा को यह कहना बंद कर देना चहिए कि वह (नासा) चांद पर जा रहा है। उनका कहना है कि जब से उनके प्रशासन ने 2024 तक चांद पर दोबारा उतरने का लक्ष्य तैयार किया है तब से इसकी वजह से भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है।

यूरोप की यात्रा से लौटने के दौरान 'एयर फोर्स वन' से ट्रंप ने ट्वीट किया, 'हम इस पर पैसा खर्च कर रहे हैं और नासा को यह नहीं कहना चाहिए कि हम चांद पर जा रहे हैं जबकि इसे तो हम 50 साल पहले ही कर चुके हैं।'

ट्रंप ने कहा, 'हम जो कुछ बड़ा कर रहे हैं, उन्हें उस पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, जैसे कि मंगल (चांद की यात्रा इसका हिस्सा है), रक्षा और विज्ञान!' बहरहाल ट्रंप के इस ट्वीट का वास्तविक अर्थ अनिश्चित है। हालांकि इस ट्वीट से ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे वह अमेरिकी एजेंसी से यह अनुरोध कर रहे हों कि उसे मंगल अभियान पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और चंद्रमा का अभियान तो इस दिशा में महज एक पायदान आगे बढ़ाने जैसा है।

उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने अप्रैल में 2024 तक चांद पर वापसी की योजना की घोषणा की थी। हालांकि, कुछ विशेषज्ञों को समय पर इस अभियान के पूरा होने में आशंका है।

इससे पहले अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने सूरज पर अपने पहले अंतरिक्षयान को रवाना कर दिया था। 'पार्कर सोलर प्रोब' नाम का यह अंतरिक्ष विमान कार के आकार का था जो सूरज की सतह के सबसे करीब लगभग 40 लाख मील की दूरी से गुजरा था।