श्रीलंका धमाकों में वांछित कट्टरपंथी मौलवी ज़हरान हाशिम की मौत की हुई पुष्टि

श्रीलंका धमाकों में वांछित कट्टरपंथी मौलवी ज़हरान हाशिम की मौत की हुई पुष्टि

कोलंबो: श्रीलंका में हुए हमले में पुलिस ने 10 लोगों का पहचान किया है जिसमें 9 श्रीलंका के ही हैं. एक हमलावर ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया से पढ़ कर आया था.

इस हमले की जिम्मेवारी इस्लामिक स्टेट ने ली है और इसके साथ ही स्थानीय आतंकवादी संगठन नेशनल तौहीद जमात का भी नाम सामने आया है.

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरीसेना ने एएफपी के हवाले से बताया है कि देश भर में होने वाले सीरियल ब्लास्ट में वांछित कट्टरपंथी मौलवी ज़हरान हाशिम होटल में विस्फोट के दौरान मारा गया है. कोलम्बो के 3 फाइव स्टार होटल और तीन चर्च में हुए धमाके में 253 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी.

पहले यह आंकड़ा 359 बताया गया था लेकिन बीते दिनसरकार की तरफ से बयान जारी कर कहा गया कि आंकड़ों में कमी लाशों की सही तरीके से पहचान के बाद की गई है.

इन हमलों में श्रीलंका के कट्टरपंथी मौलवी ज़हरान का हांथ बताया जा रहा था और पुलिस उसकी जोर-शोर से तलाश कर रही थी. ऐसे में राष्ट्रपति का यह बयान इस तरफ इशारा करता है कि मौलवी ख़ुद हमलों में आत्मघाती हमलावर बन कर आयो हो जिसमें उसकी मौत हो गई होगी.

श्रीलंका में हुए हमले में पुलिस ने 10 लोगों का पहचान किया है जिसमें 9 श्रीलंका के ही हैं. एक हमलावर ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया से पढ़ कर आया था. सभी आतंकी मध्यम वर्ग और शिक्षित परिवारों से थे.

वहीं श्रीलंका सरकार ने बीते दिनों संसद में माना था कि भारत द्वारा भेजे गए खुफिया रिपोर्टों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री तक नहीं पहुँचाया गया और ऐसा ख़ुद खुफिया अधिकारियों ने जानबूझकर किया है. देश के रक्षा सचिव को हटा दिया गया है.