पराजय के कगार पर खड़ा है विपक्ष: मोदी

पराजय के कगार पर खड़ा है विपक्ष: मोदी

अलीगढ़: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए रविवार को यहां कहा कि उत्तर प्रदेश के चुनावी नतीजे विरोधी दलों को अलीगढ़ के ताले खरीदने को मजबूर कर देंगे। नरेंद्र मोदी ने यहां एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर हमला बोला और कहा, “पहले चरण के चुनाव के बाद इन लोगों का अब टिकना मुश्किल हो गया है। ये लोग पराजय के कगार पर खड़े हैं। 23 मार्च को आने वाले चुनावी नतीजे विरोधी दलों को अलीगढ़ के ताले खरीदने को मजबूर कर देंगे।”

उन्होंने कहा, “पहले चरण के बाद इन्हें असलियत पता चल गई है। जो लोग लोकसभा में प्रधानमंत्री का सपना देख रहें हैं, लेकिन 40 सीट पर चुनाव नहीं लड़ रहे हैं, क्या पीएम बन पाएंगे।”मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने राजनीति का वो दौर भी देखा है, जब बाबा साहेब के बताए मार्ग पर चलने की बात कहते-कहते उन्हें भी धोखा दे दिया गया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, “अलीगढ़ की धरती से उत्तर प्रदेश के लोगों से एक बात कहना चाहता हूं। उप्र ने मुझे सांसद बनाया, प्रधानमंत्री बनाया। इतना बड़ा प्रदेश, लेकिन यहां की जातिवाद की राजनीति ने इस प्रदेश को आगे बढ़ने नहीं दिया। मैं उप्र को देश की अर्थव्यवस्था में सबसे आगे नंबर एक पर लाना चाहता हूं। श्रीराम चंद के जमाने में उत्तर प्रदेश का जो सम्मान था, वह वापस लाना चाहता हूं।”

मोदी ने कहा, “बाबा साहेब का आशीर्वाद है कि सामान्य परिवारों से निकल कर लोग अब देश के राष्ट्रपति व उपराष्ट्रपति पद पर हैं। चाय वाला देश का प्रधानमंत्री है। बाबा साहेब के बताए रास्ते पर चलने के लिए यह चौकीदार दिनरात मेहनत कर रहा है। हमने बाबा साहब के बताए रास्ते पर तो काम किया है, उनको देश के इतिहास में सम्मान भी दिया है, जिसके वह हकदार थे। बाबा साहेब ने जो किया, वह हमें नहीं भूलना चाहिए। कांग्रेस बाबा साहेब को कभी बर्दाश्त नहीं कर पाई।”

मोदी ने कहा, “जब मैं राष्ट्र भक्ति की बात करता हूं, तो उनका नकाब उतर जाता है। कल उपराष्ट्रपति जी सरकार के कार्यक्रम में जलियांवाला बाग शहीदों को श्रद्धांजलि देने गए थे, लेकिन उनके इस कार्यक्रम में कांग्रेस के मुख्यमंत्री गायब थे। वह कांग्रेस परिवार की भक्ति में जुटे हुए थे।”

मोदी ने कहा, “आप बताइए कि आतंकवाद हटना चाहिए या नहीं, पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों को मारना चाहिए या नहीं, सर्जिकल स्ट्राइक होनी चाहिए या नहीं? आपके चौकीदार ने ठीक किया? आप कहते हैं आतंकवाद हटना चाहिए, विरोधी कहते हैं मोदी हटना चाहिए। मोदी कभी अपनी नहीं सोचता, मोदी केवल देश की सोचता है। मोदी का मिशन, आतंकवाद, गरीबी, बीमारी हटाना है। भ्रष्टाचार हटाना है।”