Budget 2019: 'किसान सम्मान निधि योजना' से अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा भारी बोझ

Budget 2019: 'किसान सम्मान निधि योजना' से अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा भारी बोझ

नई दिल्ली: सरकार के 'किसान सम्मान निधि योजना' से अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा भारी बोझ, अन्य योजनाओं के लिए हो सकती है फंड की कमी पीयूष गोयल ने बजट भाषण के दौरान एलान किया है कि देश के 12 करोड़ किसानों छोटे किसानों को किसान सम्मान निधि योजना के तहत हर महीने सरकार 500 रुपये देगी. जिन किसानों के पास 2 हेक्टेयर से कम जमीन है सरकार उन्हें सालाना 6 हजार रुपये सीधे उनकें बैंक खाते में भेजेगी. सरकार की इस योजना से अर्थव्यवस्था पर हर साल 1 लाख 20 हजार करोड़ का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा. सरकार यह पैसा कहाँ से लाएगी इसके लिए अभी तक कोई रोडमैप नहीं बताया गया है. इस योजना से सरकार को फिस्कल डेफिसिट को कण्ट्रोल करने में भी मुश्किलें आ सकती हैं.

सरकार के इस कदम का पहले ही अंदाजा लगाया गया था. अरुण जेटली ने कहा था कि सरकार किसानों और कृषि संकट को दूर करने के लिए कई योजनाएं ला सकती है.

पीयूष गोयल संसद में बजट भाषण पेश कर रहे हैं. अपने भाषण के शुरूआती दौर में ही उन्होंने सरकार द्वारा किए गए योजनाओं का ब्योरा पेश कर रहे हैं. और इस दौरान पीएम मोदी का जोश भी देखने लायक है. हर एक सरकारी घोषणा के बाद पूरे जोर से मेज थपथपा रहे हैं. पीयूष गोयल इस दौरान लगातार सरकार की तरफ से किए गए काम का आंकड़ा पेश कर रहे हैं. उन्होंने जहां एनपीए में आई कमी को मोदी सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि बताई जा रही है.