कपिल ईसापुरी के नये उपन्यास 'अपराधी' का विमोचन

कपिल ईसापुरी के नये उपन्यास 'अपराधी' का विमोचन

नई दिल्ली: कपिल ईसापुरी के नये उपन्यास 'अपराधी' का विमोचन कॉन्स्टिट्यूशन क्लब आॅफ इंडिया दिल्ली में जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय के पूर्व अध्यक्ष तथा प्रोफेसर एवं केन्द्रीय हिन्दी निदेशालय (भारत सरकार) साहित्यकार गंगा प्रसाद विमल द्वारा किया गया। इस अवसर पर एच0जे0एस0 आबिद शमीम, साहित्यकार मुशर्रफ आलम जौक, पत्रकार शंभूनाथ शुक्ला, आई0पी0एस0 अजय चैधरी, आई0ए0एस0 अजय यादव, पत्रकार वीरेंद्र सिह ’वत्स’ जैसी शख्सियते मैजूद रही। कपिल ईसापुरी के इस नये उपन्यास ’’अपराधी’’ का प्रकाशन ज्ञानपीठ द्वारा किया गया है।

कपिल ईसापुरी का शुमार एक प्रभिावान लेखक के तौर पर किया जाता है। सन् 2013 में प्रकाशन संस्थान से प्रकाशित इनका उपन्यास ‘फरिश्ता’ तब चर्चा में आया था। जब आमिर खान अभिनित फिल्म पी0के रिलिज हुई। फिल्म पी0के का कुछ भाग ’फरिश्ता’ से पूर्ण रूप से पे्ररित है। इस संदर्भ में मामला वर्तमान में दिल्ली उच्च न्यायलय के विचाराधीन है। ‘फरिश्ता’ को सन् 2015 का सबसे चर्चित उपन्यास होने का श्रेय प्राप्त है।

कपिल उत्तर प्रदेश के अमरोहा जिले से ताल्लुक रखते है तथा अंतर्राष्ट्रीय मुद्दो पर इनके लेख कई राष्ट्रीय समाचारो मे प्रकाशित होते रहते है। इससे पूर्व उनकी कई कहानियां प्रकाशित और सम्मानित हो चुकी हैं। कुछ सालो तक यह उत्तर प्रदेश के कई जिलो मे डिप्टी जेलर के पद पर आसीन रहे। वर्तमान में असिटेंट कमिश्नर सेल टैक्स के पद पर आसीन है।

’’अपराधी’’ कपिल ईसापुरी का दूसरा उपन्यास है। इस उपन्यास के विमोचन के अवसर पर बोलते हुए वरिष्ब्ठ साहित्यकार गंगा प्रसाद विमल ने लेखक को बधाई देते हुए कहा कि हमारे दरमियान कपिल ईसापुरी के रुप में अच्छे युवा साहित्यकार मौजूद है। जो इस ओर इशारा करता है कि हिन्दी का भविष्य निसंदेह सुरक्षित हाथो में है।