मालदीव ने दिखाई आँखें

मालदीव ने दिखाई आँखें

बोला--वापस ले जाएं अपने सैनिक और हेलीकॉप्टर

नई दिल्ली: मालदीव ने भारत से वहां मौजूद अपने सैनिक और सैन्य हेलीकॉप्टर वापस ले जाने के लिए कहा है। जून में मालदीव और भारत के बीच करार खत्म हो जाने की वजह से ये आदेश दिया गया है। मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने गुरूवार को ये आदेश दिया।

भारत के मालदीव के एंबेसडर अहमद मोहम्मद ने एक अंग्रेजी वेबसाइट से बातचीत में कहा कि भारत की तरफ से हमें दो हेलिकॉप्टर दिए गए थे। लेकिन, हमें अब इस की कोई जरूरत नहीं है। हमारे पास अब अपने पर्याप्त साधन मौजूद हैं। अहमद ने कहा कि पहले हमारे लिए भारत द्वारा दिए गए हेलिकॉप्टर बेहद उपयोगी थे, लेकिन पर्याप्त बुनियादी ढांचे व सुविधाओंं के विकास के साथ अब हमारे पास खुद पर्याप्त साधन हैं। केरल में बाढ़: 4000 लोगों को निकाला गया, कोच्चि में स्कूल और ऑफिस बंद

बता दें कि मालदीव में हेलीकॉप्टर के अलावा भारत ने 50 सुरक्षाकर्मी भी भेजे थे। इनमें कुछ पायलट, क्रू मेंबर भी शामिल थी। इन सभी सैन्य कर्मियों का वीजा एक्सपायर हो चुका है। हालांकि, भारत ने अभी तक अपने किसी भी सैन्यकर्मी को वहां से वापस नहीं बुलाया है। भारतीय नौसेना प्रवक्ता का कहना है कि हमारे सैन्यकर्मी और दो हेलिकॉप्टर मालदीव में हैं। विदेश मंत्रालय इस पूरे मामले पर नजर रखे हुए है। हालांकि, विदेश मंत्रालय की तरफ से फिलहाल इस मामले पर कोई भी जानकारी नहीं दी गई है।