बीना मोदी बनीं दशक की महिला

बीना मोदी बनीं दशक की महिला

वोमेन इकोनॉमिक फोरम द्वारा 'व्यापार एवं नेतृत्व में इस दशक की महिला का पुरस्कार' प्रदान किया गया

आगरा: आगरा के स्वर्गीय श्री राम बाबू लाल और श्रीमती उमा लाल की सुपुत्री बीना मोदी को वोमेन इकोनॉमिक फोरम (WEF) द्वारा 'व्यापार एवं नेतृत्व में इस दशक की महिला का पुरस्कार' प्रदान किया गया।

बीना मोदी की यात्रा बेहद सफल व्यवसाय खड़ा करने के लिए जोश एवं रचनात्मकता का एक अनुकरणीय साक्ष्य है।

फैशन और आतिथ्य उद्योग समेत कई क्षेत्रों में बीना मोदी एक सफल व्यक्तित्व रही हैं जिन्होंने कई लोगों द्वारा अनुकरण करने के लिए एक उदाहरण स्थापित किया है। उन्हें हाल ही में वोमेन इकोनॉमिक फोरम (WEF) 2018 अवार्ड में 'व्यापार एवं नेतृत्व में इस दशक की महिला का पुरस्कार' प्रदान किया गया है। उन्हें प्रेम अहलूवालिया की एक पुस्तक 'भारत की सबसे शक्तिशाली महिला' में भी शामिल किया गया है।

आगरा के रहने वाली बीना मोदी अग्रणी उद्योगपति श्री राम बाबू लाल की बेटी हैं। यह परिवार लकड़ी और ट्रेडिंग के व्यवसाय में है तथा सन् 1942 में श्री लाल ने हाथ्ररस में कई मिलें खोलते हुए वस्त्र उद्योग में पैर रखा। कला और संस्कृति की प्रेमी श्रीमती बीना मोदी ने ''कवि सम्मेलन'' का आयोजन किया तथा स्थानीय ब्रज क्षेत्र में पारंपरिक संगीत एवं नाट्यकला को बढ़ावा दिया। उन्हें परोपकार और धर्मार्थ गतिविधियों के लिए भी जाना जाता है।

उनके पिता के कला, संस्कृति और वस्त्र के प्रेम ने बीना मोदी को प्रेरित किया। पहले उन्होंने एंटीक वस्त्रों और कढ़ाई से बीना ब्रांड को बढ़ावा दिया। अपने पति के गोदाम में एक बुटीक से शुरूआत करते हुए आज उन्होंने वस्त्र कारीगरी को कला के क्षेत्र में प्रसिद्ध कर दिया है। प्रेरणा के रूप में अपनी व्यापक कला संग्रह का प्रयोग करते हुए उन्होंने अपने बीना ब्रांड में पूरे विश्व से विभिन्न कपड़ों, धागों, कढ़ाई और एंटीक वस्त्रों को शामिल किया है। बीना को हस्तकला में हजारों भारतीय पुरुषों एवं महिलाओं को रोजगार प्रदान करने में गर्व है तथा यह गायब होती सिलाई और कढ़ाई की कला को आगे बढ़ाने में सहायक है। उन्होंने विशेषकर पारंपरिक कला-कौशल जैसे चिकनकारी और पारसी गारा को आधुनिक महिलाओं हेतु समकालीन डिजाइनों में पुनर्जीवित और परिवर्तित कर दिया है। आज उनके बीना ब्रांड ने पूरे विश्व में एक मुकाम हासिल किया है।

वस्त्र उद्योग स्थापित करने के बाद बीना का जोश कम नहीं हुआ और उन्होंने अन्य सफल ब्रांड जैसे स्पेशियलिटी रेस्टोरेंट, डेसेंज लग्जरी सैलून और बीकॉन ट्रैवल्स की इगो चेन की शुरूआत की, ये सभी अपने संबंधित उद्योग में जाने-पहचाने नाम हैं। इगो चेन में इगो थाई, इगो लांज, इगो इटेलियन और इगो 33 कैफे शामिल हैं जो दिल्ली में शानदार भोजन का अनुभव प्रदान करते हैं। पुरस्कार प्राप्त इगो थाई रेस्टोरेंट अपने शेफ के लिए मशहूर है जो विशेष रूप से थाइलैंड से आया है। डेसेंज सैलून विलासिता और सौंदर्य की दुनिया में ऊँचे दर्जे का केशविन्यास रिफरेंस प्वाइंट है जिसे बीना मोदी द्वारा भारत में खोला गया है। बीकॉन ट्रैवल्स कारपोरेट यात्रा क्षेत्र के लिए उच्च गुणवत्तायुक्त यात्रा समाधान प्रस्तुत करता है।

बीना मोदी का अपने उद्योगपति पति केके मोदी की मोदी एंटरप्राइजेज की 2.8 बिलियन अमरीकी डालर की विरासत में महत्वपूर्ण योगदान है। वह कई ग्रुप कंपनीज के बोर्ड में शामिल हैं तथा मोदी इंटरप्राइजेज के लिए डायरेक्टर, फेमिली कौंसिल की मुखिया के रूप में काम करती हैं। बीना मोदी गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया की सीएसआर कमेटी में भी शामिल हैं तथा उनकी सामाजिक जिम्मेदारी के प्रति वचनबद्धता एवं उनका व्यक्तिगत उत्साह प्रमुखता से और ग्रुप के स्थायी मूल्यों के साथ सीएसआर कार्यक्रमों की पहल करता है।