मुख्यमंत्री आवास घेरने जा रहे जा रहे युवा कांग्रेसी गिरफ्तार

मुख्यमंत्री आवास घेरने जा रहे जा रहे युवा कांग्रेसी गिरफ्तार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के बेरोजगार एवं बेहाल छात्रों के अपमान व विभिन्न समस्याओं के खिलाफ भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन, उत्तर प्रदेश मध्य जोंन (एनएसयूआई) द्वारा आज लखनऊ में ‘छात्र आक्रोश रैली’ निकालकर एनएसयूआई के हजारों कार्यकर्ता छात्रों के 11सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन देने के लिए मुख्यमंत्री आवास जा रहे थे जिन्हें रास्ते में भारी पुलिसबल द्वारा बैरीकेंिडंग लगाकर बलपूर्वक लाठीचार्ज व पानी की तेज बौछार डालकर रोका गया। इस मौके पर छात्रों का नेतृत्व कर रहे विधान परिषद दल के नेता श्री दीपक सिंह, प्रदेश कांग्रेस के युवा एवं एनएसयूआई के प्रभारी श्री श्रोत गुप्ता, एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव एवं मध्य जोन के प्रभारी श्री सतवीर चैधरी, एनएसयूआई के मध्य जोन के अध्यक्ष श्री मयंक तिवारी, श्री प्रशान्त तिवारी को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर कैण्ट थाने ले जाया गया जहां देर सायं रिहा किया गया।

‘छात्र आक्रोश रैली’ निकालकर एनएसयूआई के कार्यकर्ता 11 सूत्री मांगों के सम्बंध में मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपने उनके आवास जा रहे थे। रास्ते में भारी पुलिस बल ने बैरिकेडिंग लगाकर उनको रोक दिया। पानी की तेज बौछार से बात नहीं बनी तो लाठियां फटकारी गईं। इस जुलूस का नेतृत्व विधान परिषद दल के नेता दीपक सिंह, एनएसयूआई मध्य जोन के अध्यक्ष मयंक तिवारी, प्रभारी श्रोत गुप्ता, राष्ट्रीय सचिव सतवीर चौधरी कर रहे थे। वहीं, कांग्रेस ने कहा है कि जब तक योगी सरकार छात्रों से बात करने की बजाय पुलिस को आगे करेगी तब तक लड़ाई नहीं रुकने वाली है। न ही छात्र शांत बैठेंगे। कांग्रेस नेता अंशू अवस्थी के मुताबिक विश्वविद्यालय में प्रशासन का छात्रों के प्रति तनाशाही रवैया है। छात्रों की मांग बेरोजगारी, संविदा पर नियुक्ति बंद करने के संबंध में थी। इसके अलावा सूबे के लाखों छात्र छात्राओं की वर्षों से लम्बित छात्रवृत्ति जल्द लागू करने, कोचिंग और निजी शिक्षण संस्थानों के मापदंड तय करने, मनमानी फीस वसूली आदि मांगों के सम्बंध में एनएसयूआई के नेता मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपना चाहते थे।

इसके पूर्व कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने कांग्रेस मुख्यालय पर छात्रों को सम्बोधित किया। राज बब्बर ने कहा कि सरकार को यह बता देना है कि अब छात्रों और नौजवानों के खिलाफ उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। एनएसयूआई का एक-एक कार्यकर्ता, नौजवान व छात्र सरकार की नीतियों के खिलाफ अब एकजुट हो चुका है। एनएसयूआई के राष्ट्रीय सचिव सतवीर चौधरी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन पूरे देश में ‘छात्र आक्रोश रैली’ कर रहा है। बिहार,उत्तराखण्ड और राजस्थान में बीते दिनों रैली आयोजित की गई थी। इसी क्रम में रविवार को मध्य जोन में छात्र आक्रोश रैली निकाली गई। एनएसयूआई राष्ट्रीय स्तर पर सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करेगी।

Lucknow, Uttar Pradesh, India