तेजस्वी के मंच से राहुल ने भाजपा-आरएसएस पर बोला हमला

तेजस्वी के मंच से राहुल ने भाजपा-आरएसएस पर बोला हमला

नई दिल्ली: बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम में नाबालिगों के साथ हुए यौन शोषण के खिलाफ प्रदर्शन के बहाने राजधानी दिल्ली में शनिवार को विपक्षी पार्टियों ने अपनी एकजुटता दिखाई. इस मौके पर राहुल गांधी ने कहा कि आज पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा है, विपक्ष के साथ पूरा देश है जबकि बीजेपी-आरएसएस दूसरी तरफ अकेले खड़े हैं.

राहुल ने कहा, 'हम सिर्फ मुजफ्फरपुर के लिए नहीं पूरे देश की महिलाओं के लिए सामने आए हैं. हम यह बताने आए हैं कि हम देश की जनता के साथ खड़े हैं, महिलाओं के साथ खड़े हैं, हम पीड़ित बच्चियों के साथ खड़े हैं और हम एक इंच भी पीछे नहीं हटने वाले.'

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा, "आप देख रहे हैं कि पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा है. पूरा देश एक साथ एक तरफ खड़ा है और बीजेपी-आरएसएस दूसरी तरफ. लेकिन जब देश की जनता अपना मन बना लेती है तो उनके खिलाफ कोई टिक नहीं सकता है."

राहुल ने बिहार के मुख्यमंत्री के एक बयान का हवाला देते हुए कहा, 'अगर नीतीश कुमार को शर्म आ रही है तो दोषियों पर तत्काल कार्रवाई करें.' एक दिन पहले ही नीतीश ने कहा था, ‘‘मैं मुजफ्फरपुर में हुई घटना को लेकर दुखी हूं. मुझे ग्लानि हो रही है. हमारे समाज में किस तरह की विकृत मानसिकता के लोग रहते हैं. बिहार के सभी लोग इस तरह की भयावह घटना को लेकर शर्म महसूस करते हैं.’’

बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राजद नेता तेजस्वी यादव ने दिल्ली के जंतर-मंतर में विरोध प्रदर्शन और कैंडल लाइट मार्च का आह्वान किया था. राजद के इस प्रोटेस्ट में कांग्रेस, आम आदमी पार्टी, समाजवादी पार्टी, सीपीएम, डीएमके, तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल जैसी पार्टियों के नेता शामिल हुए हैं. इस प्रदर्शन में शेहला रशीद और कन्हैया कुमार जैसे छात्र नेता भी शामिल हुए.

इस मौके पर तेजस्वी यादव ने बिहार की नीतीश सरकार पर जमकर हमला बोला. मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को संरक्षण देने का आरोप लगाते हुए तेजस्वी ने कहा कि बिहार में अब जंगल राज नहीं रहा बल्कि दानव राज आ गया है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिहार सीएम नीतीश कुमार के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि उन्हें नैतिक रूप से इस्तीफा दे देना चाहिए.