राशन दुकानदारों को उठाना पड़ता है करोड़ों रूपये की घटतौली का नुकसान

राशन दुकानदारों को उठाना पड़ता है करोड़ों रूपये की घटतौली का नुकसान

लखनऊ: आल इण्डिया फेयर प्राईस शाप डीलर फेडरेशन उ0प्र0 ईकाध्यक्षता में हुई। बैठक में महासई की बैठक प्रदेश अध्यक्ष राजेश तिवारी की अचिव अशोक सिंह ने कहा कि राशन विक्रेताओं की समस्याओं का समाधान नहीं किया जा रहा है। जबकि शासन प्रशासन को कई बार ज्ञापन दिया गया। प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष जयदेव यादव ने कहा कि पूरे प्रदेश में राशन विक्रेताओं के साथ गोदाम प्रभारी द्वारा प्रतिमाह कई करोड़ की घटतौली चल रही है। पूरे प्रदेश के किसी भी गोदाम से शासनादेश के अनुसार खाद्यान्न राशन विक्रेताओं को नहीं मिल रहा है। तेल टंकियों पर भी 10 से 15 लीटर तक की घटतौली की जा रही है जिसमें राशन विक्रेताओं से करोड़ों की घटतौली कर राशन विक्रेताओं को शिकार होना पड़ रहा है। सरकार द्वारा बार-बार जांच के नाम पर राशन विक्रेताओं का ही उत्पीडन किया जा रहा है जबकि पूरे प्रदेश में घटतौली की जांच गोदामों पर करायी जाय तो शायद समस्या का समाधान काफी हद तक हो जायेगा। शासनादेश के अनुसार गोदाम व तेल टंकी पर पर्वेक्षणीय अधिकारी सिर्फ कागज पर रहते हैं जबकि निकासी के समय उपस्थित नहीं रहते, सिर्फ बाद में आकर रजिस्टर पर हस्ताक्षर बना देते हैं। इस प्रकार कई करोड़ रूपये का नुकसान राशन विक्रेताओं को होता है। राशन विक्रेता अपनी मांगों एवं समस्याओं को लेकर दिनांक 17 जुलाई 2018 को ईको पार्क, आलमबाग में धरना-प्रदर्शन करेंगे। बैठक में प्रमुख रूप से विशम्भर मौर्य, राजेन्द्र सिंह, मुन्नी लाल, गिरीश तिवारी आदि लोग उपस्थित रहे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India