यूपी विधान परिषद चुनाव: BJP ने दिया चार दलबदलुओं को मौका

यूपी विधान परिषद चुनाव: BJP ने दिया चार दलबदलुओं को मौका

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में होने वाले विधान परिषद चुनाव के लिए अपने 10 उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है. विधान परिषद की 13 सीटों के लिए 26 अप्रैल को चुनाव होने वाला है. चुनाव की अधिसूचना 9 अप्रैल को जारी की गई थी. नामांकन की आखिरी तारीख 16 अप्रैल है. बीजेपी ने विद्या सागर सोनकर, अशोक कटारिया, विजय बहादुर पाठक, अशोक धवन, बुक्कल नवाब, सरोजिनी अग्रवाल, यशवंत सिंह, जयविर सिंह, डॉ महेंद्र सिंह और मोहसिन रजा के नाम का ऐलान किया है. बीजेपी ने दोनों वर्तमान MLC डॉ महेंद्र सिंह और मोहसिन रजा को फिर से विधान परिषद भेजने का फैसला किया है.

बीजेपी ने दूसरे पार्टी से आकर पार्टी का दामन थामने वाले सभी नेताओं को टिकट दिया है. बुक्कल नवाब और यशवंत सिंह पहले समाजवादी पार्टी के MLC थे. बाद में दोनों नेताओं ने पार्टी से इस्तीफा देकर बीजेपी का दामन थाम लिया. सरोजिनी अग्रवाल ने भी समाजवादी MLC पद से इस्तीफा देने के बाद बीजेपी का दामन थाम लिया था. इन तीनों के अलावा पूर्व बसपा विधान परिषद सदस्य ठाकुर जयवीर सिंह ने भी बसपा से इस्तीफा देकर बीजेपी की सदस्यता ग्रहण कर ली थी.

बीजेपी ने संगठन के चार लोगों को भी उच्च सदन भेजने का फैसला किया है. दो वर्तमान MLC के अलावा चार बागी नेताओं को मौका दिया गया है. बाकी के चार टिकट संगठन में महामंत्री विजय बहादुर पाठक, विद्यासागर सोनगर, अशोक कटारिया और अशोक धवन को अपना उम्मीदवार बनाया है.

ये सभी उम्मीदवार सोमवार को नामांकन दाखिल करेंगे. नामांकन भरने वाले उम्मीदवार 19 अप्रैल तक नामांकन वापस ले सकते हैं. उत्तर प्रदेश में विधान परिषद की सभी सीटों के लिए 26 अप्रैल को मतदान किया जाएगा. 5 मई को 12 विधान परिषद सदस्यों का कार्यकाल पूरा होने वाला है, जबकि एक सीट पहले से खाली है. 12 में से समाजवादी के 7 सदस्यों का कार्यकाल पूरा हो रहा है. इन 7 सदस्यों में खुद अखिलेश यादव और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम शामिल हैं. इनके अलावा बहुजन समाज पार्टी के विजय प्रताप सिंह और सुनील कुमार चित्तौड़ का कार्यकाल पूरा हो रहा है. बीजेपी के दो मोहसिन रजा और महेंद्र कुमार का भी कार्यकाल पूरा हो रहा है.

Lucknow, Uttar Pradesh, India