EPFO पर ब्याज दर घटाने की तैयारी में मोदी सरकार

EPFO पर ब्याज दर घटाने की तैयारी में मोदी सरकार

नई दिल्ली: रिटायरमेंट फंड बॉडी ईपीएफओ पीएफ पर मिलने वाली ब्याज दरों में कमी कर सकती है। लेबर मिनिस्ट्री के अधिकारी ने कहा है कि पीएफ पर 8.56 फीसदी की दर से ब्याज मिलता है। साल 2016-17 में इसके 4.5 करोड़ मेंबर हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) की इस आधार पर ब्याज दर में कटौती करने की संभावना है कि वह सीधे विनिमय व्यापार निधि (ईटीएफ) यूनिट्स को भविष्य निधि खातों में जमा कर रही है। सीनियर अधिकारी ने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन 2017-18 के लिए भविष्य निधि जमा राशियों पर ब्याज दर में कटौती कर सकता है, क्योंकि ईटीएफ निवेश को सीधे ग्राहकों के खाते में जमा करने की योजना है। हालांकि, अधिकारी ने कहा कि ईपीएफओ अभी भी चालू वित्त वर्ष के लिए इनकम प्रॉजेक्शन का काम कर रहा है, जो कि इस वित्त वर्ष के लिए उपभोक्ता खातों में ब्याज दर को जमा करने का आधार बन जाएगा।

इससे पहले गुरुवार को ईपीएफओ ने मूल्यांकन और इक्विटी निवेश के लेखांकन के लिए पॉलिसी को मंजूरी दी थी। इसे आईआईएम बेंगलुरु की सलाह के बाद तैयार किया गया था। पॉलिसी इस वित्तीय वर्ष के अंत तक ग्राहकों के भविष्य निधि खाते में ईटीएफ इकाइयों को क्रेडिट करने में सक्षम हो जाएगी। इस प्रकार हर खाता धारक अपना पीएफ बैलेंस को कैश बैलेंस और ईटीएफ यूनिट्स की तरह देख पाएगा।

India