सजा सुनाए जाने के बाद मुस्कुरा रहा था डॉन

सजा सुनाए जाने के बाद मुस्कुरा रहा था डॉन

नई दिल्ली: 24 साल पुराने मुंबई ब्‍लास्‍ट केस में टाडा अदालत ने फैसला सुना दिया है. अबु सलेम और करीमुल्‍लाह को उम्रकैद की सजा सुनाई गई. वहीं ताहिर मर्चेंट और फिरोज खान को मौत की सजा सुनाई गई है. रियाज सिद्दीकी को 10 साल की सजा दी गई है. मामले के एक अन्‍य दोषी मुस्‍तफा दोसा की मौत चुकी थी. मुंबई में हुए इन 13 बम धमाकों में 257 लोग मारे गए थे.

फैसला सुनाए जाने से पहले अबु सलेम अपने वकीलों से बात कर रहा था. अबू सलेम कोर्ट में आराम से खड़ा था उसे पता था कि ज्यादा से ज्यादा उम्रकैद की सजा होगी. सजा सुनाने के बाद जब उससे पूछा गया कि उसे कुछ कहना है क्‍या इस पर सलेम ने कुछ नहीं कहा और मुस्‍कुराकर रह गया.

सजा का ऐलान होने के वक्‍त भी वह शांत रहा. उसके चेहरे पर किसी तरह की परेशानी नहीं दिखी. उसे दो मामलों में 25 साल की जेल और उम्रकैद की सजा सुनाई. साथ ही दो लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया गया.

वहीं रियाज सिद्दीकी और करीमउल्लाह कोर्ट में कुरान पढ़ते रहे. सजा के दौरान भी उनका ध्‍यान कुरान में ही रहा. मौत की सजा पाने वाला ताहिर मर्चेंट फैसले के बाद रोने लगा. वहीं फिरोज खान और रियाज सिद्दीकी बेचैन दिखाई दिए. सजा के बाद फिरोज कोर्ट में ही अबू सलेम पर चिल्‍ला पड़ा जबकि फिरोज़ सजा सुनने के बाद बौखला गया.

India