नेटवेस्ट टी20 में शाहिद आफरीदी का ब्लास्ट, 42 गेंदों में ठोंका शतक

नेटवेस्ट टी20 में शाहिद आफरीदी का ब्लास्ट, 42 गेंदों में ठोंका शतक

लन्दन: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने एक बार फिर तहलका मचा दिया है। उन्होंने डर्बी में नेटवेस्ट टी20 ब्लास्ट के क्वॉटर फाइनल में हैंपशायर की ओर से खेलते हुए डर्बीशायर के खिलाफ 42 गेंदों में शतक ठोक दिया। अपनी पारी में उन्होंने 10 चौके और 7 छक्के लगाए। यह अफरीदी की पहली टी20 सेंचुरी है। उनके शानदार शतक की बदौलत हैंपशायर ने निर्धारित 20 ओवरों में 8 विकेट खोकर 249 रन बनाए। 250 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी डर्बीशायर की टीम 19.5 ओवरों में 148 पर अॉल आउट हो गई और हैंपशायर 101 रनों से मैच जीत गया।

इस मैच में डर्बीशायर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। पाकिस्तान के इस अॉलराउंडर खिलाड़ी को ओपनिंग के लिए भेजा गया और उन्होंने अपने चिर परिचित अंदाज में खेलते हुए डर्बीशायर के बल्लेबाजों की बखिया उधेड़कर रख दी। उन्होंने विकेटकीपर बल्लेबाज केलविन डिकिन्सन के साथ पहले विकेट के लिए 43 रन जोड़े। केलविन तो 18 रन बनाकर चलते बने। लेकिन मैदान पर अफरीदी का तूफान जारी रहा। इसके बाद उन्होंने हैंपशायर के कप्तान जेम्स विंस के साथ दूसरे विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी की। अफरीदी का विकेट न्यू जीलैंड के तेज गेंदबाज मैट हैनरी ने लिया। शॉर्ट गेंद को मारने के चक्कर में वह फाइन लेग एरिया पर खड़े मेन कॉटन को कैच थमा बैठे।

गौरतलब है कि अफरीदी की गिनती हमेशा से दुनिया के सबसे विस्फोटक बल्लेबाजों में होती है। उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 1996 में पहली ही पारी में इरादे साफ कर दिए थे। एक जमाने में उनके नाम 37 गेंदों में शतक लगाने का रिकॉर्ड था, जिसे साल 2014 में कोरी एंडरसन ने तोड़ा। उन्होंने 36 गेंदों में शतक ठोका। इसके एक साल बाद यह रिकॉर्ड साउथ अफ्रीका के एबी डिविलियर्स के नाम हो गया, जिन्होंने 2015 में वेस्टइंडीज के खिलाफ 31 गेंदों में शतक जड़ दिया।