गुरु-चेले के आने वाले हैं बुरे दिन: मायावती

गुरु-चेले के आने वाले हैं बुरे दिन: मायावती

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जारी विधानसभा चुनावों के अंतिम चरण में पहुंचने के साथ ही नेताओं द्वारा जुबानी जंग भी तेज हो गई है। सोमवार को सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीएसपी सुप्रीमो और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि “हमारी बुआ (मायावती) कभी भी भाजपा के साथ रक्षा बंधन मना सकती हैं। आप लोग उनसे सावधान रहें।” इसके तुरंत बाद मायावती ने अखिलेश पर पलटवार करते हुए कहा कि सपा के बबुआ को तो भाभी भी नहीं बचा पाएंगी। बसपा सुप्रीमो यहीं नहीं रूकीं, उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा। चुनावों के दौरान सभी बड़े दलों खासकर बीजेपी, कांग्रेस, सपा और बसपा के बीच जमकर जबानी जंग देखने को मिली।

5वें चरण के मतदान के दौरान सोमवार को बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बसपा प्रत्याशियों के समर्थन में आजमगढ़ में रैली की। उन्होंने भाजपा और सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी के गुरु तथा चेले, और सपा में बबुआ के बुरे दिन वाली सुनामी आने वाली है। एसपी के बबुआ को तो भाभी भी नहीं बचा पाएंगी। मायावती ने 25 फरवरी को महाराजगंज में रैली के दौरान शिवपाल यादव से हमदर्दी दिखाते हुए अखिलेश यादव और उनके पिता मुलायम सिंह पर हमला किया था। उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह ने अपने पुत्र मोह में कदम-कदम पर भाई शिवपाल को जनता के सामने अपमानित किया है। वहीं, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मायावती और अखिलेश यादव को जवाब देते हुए कहा कि बुआ-भतीजे ने मिलकर यूपी को बर्बाद कर दिया।