ISI ने कॉपी किये 2000 रुपए के नोटों के सिक्योरिटी फीचर्स

ISI ने कॉपी किये 2000 रुपए के नोटों के सिक्योरिटी फीचर्स

IB, NIA को किया आगाह

नोटबंदी के फैसले के बाद जारी किए गए 2000 के नए नोटों की नकल पकड़े जाने के बाद देश की खुफिया एजेंसियों ने केंद्र सरकार को आगाह किया है। इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB) और नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (NIA) ने सरकार को आगाह किया है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) ने 2000 रुपए के नए नोटों के करीब 8 से 10 सिक्योरिटी फीचर्स को कॉफी करने में सफतला हासिल कर ली है। नवंबर में मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी का फैसला लिया गया था। जिसका एक उद्देश्य नकली करेंसी को अर्थव्यवस्था से बाहर करना भी था।

एशियन एज की रिपोर्ट के मुताबिक हाल ही में केंद्र को भेजे गए एक नोट में कहा गया है कि आईएसआई और उसके गुर्गों ने कुछ सिक्योरिटी फीचर्स की कॉपी कर ली है, लेकिन वह उस पेपर तक नहीं पहुंच पाए हैं, जिसका उपयोग नोट छापने के लिए किया जा रहा है। सरकार को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आईएसआई और उसके गुर्गों उन कागजों तक न पहुंच पाए जो करेंसी छापने के लिए भारतीय प्रिटिंग प्रेस या मिंट में सप्लाई किए जाते हैं।

इस हफ्ते की शुरुआत में एनआईए ने बीएसएफ के साथ ज्वाइंट ऑपरेशन किया था, जिसमें बॉर्डर के नजदीक स्थित मालदा में 2000 रुपए के हाई क्वॉलिटी नोट सीज किए गए थे। यह नोट बांग्लादेश के रास्ते भारत में तस्करी के जरिए भेजे जा रहे हैं। रिपोर्ट्स में बताया गया था कि नोट “बहुत उच्च क्वालिटी” के थे। नकली नोटों में कुछ सिक्योरिटी फीचर्स भी डाले गए थे। हालांकि नोट का कागज अच्छा नहीं था। एक सीनियर अधिकारी ने बताया कि 2000 रुपए के नोटों के सेफ्टी फीचर्स को कॉपी कर लिया गया है और 500 रुपए के नोटों के फीचर्स को कॉपी करने की कोशिश की जा रही है। हम चाहते हैं कि आईएसआई या उसके सहयोगी अपने इस कदम में कामयाब न हो सके। पहले भी दावा किया जा चुका है कि दाऊद और उसके सहयोगी प्रिंटिंग इंक और नोट में इस्तेमाल होने वाले कागज को हासिल करने की कोशिश कर चुके हैं।

India