हमें चुनाव की नहीं, देश की चिंता है: पीएम मोदी

हमें चुनाव की नहीं, देश की चिंता है: पीएम मोदी

नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को लोकसभा में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के अभिभाषण पर होने वाली चर्चा में हिस्सा लेते हुए कहा कि नोटबंदी जैसे कड़े फैसले के कारण उन पर जुल्म होंगे, लेकिन वह सहने को तैयार हैं। उन्होंने नोटबंदी और सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर विपक्ष पर निशाना साधा।

इससे पहले प्रधानमंत्री ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर चुटकी ली। उन्होंने कहा कि आखिर भूकंप आ ही गया। उन्होंने राहुल गांधी के उस बयान पर चुटकी ली, जिसमें नोटबंदी के दौरान उन्होंने कहा था कि मोदी जी उनको सदन में बोलने नहीं दे रहे हैं अगर वह संसद में बोलेंगे तो भूकंप आ जाएगा।

इससे पहले मोदी ने भूकंप पीडि़तों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि केंद्र सरकार हर मदद के लिए प्रभावित राज्यों के संपर्क में है।

पीएम मोदी ने कहा कि भूकंप आ ही गया, कोई कारण होगा, धरती मां रूठ गई होंगी। जब कोई स्कैम में भी सेवा, नम्रता का भाव देखता है तो धरती मां दुखी हो जाती हैं और भूकंप आता है।

मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि इनके मुंह से सुनने को नहीं मिला है कि कोई भगत सिंह, आजाद भी थे। इनको लगता है कि आजादी सिर्फ एक परिवार ने दिलायी है। मेरी तरह बहुत से शख्स हैं जो आजादी की लड़ाई के समय देश के लिए शहीद नहीं हो पाए लेकिन हम देश के लिए जी रहे हैं और उसकी सेवा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि देश के विकास में हर सरकार का योगदान रहा है। मोदी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि आपने सदन में नोटबंदी पर चर्चा इसलिए नहीं की क्योंकि आपको लगता था कि इससे मोदी को फायदा हो जाएगा। नोटबंदी पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि हमे चुनाव की नहीं, देश की चिंता है।

India