अधिवक्ता विजय प्रताप हत्याकांड: हाईकोर्ट में तलब हुए डीएम-एसपी

सुलतानपुर। पुलिस ने भले ही अधिवक्ता हत्याकांड का खुलासा कर चार लोगो को जेल भेज दिया है, लेकिन अधिकारियों की परेशानी कम होने का नाम नही ले रही है। हाईकोर्ट ने मंगलवार को सुनवाई के बाद प्रमुख सचिव के साथ डीएम-एसपी को तलब कर जवाब मांगा है।

गौरतलब है कि बीते 28 अक्टूबर को दीवानी न्यायालय आते समय अधिवक्ता विजय प्रताप ंिसंह की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। अधिवक्ताओं पर दर्ज हुए मुकदमें और विभिन्न मांगों को लेकर दीवानी न्यायालय में हड़ताल चल रही थी। पुलिस ने 60 दिन बाद अधिवक्ता हत्याकांड का खुलासा करते हुए असलहे भी बरामद किये थे। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने हत्या में संलिप्त लल्लन राय-इमिलियाकला थाना कोतवाली नगर, मोहित मिश्रा मिश्रा उमरी थाना गोसाईगंज, शुभम उर्फ शिवम राय इमिलिया कला, रामअचल कोरी लाखौडिया थाना कोतवाली नगर को गिरफ्तार किया था। बाद में एक आरोपी विष्णु द्विवेदी-सोहगौली से पूछताछं के बाद उसे जेल भेजा था। मुख्य अभियुक्त सूरज अब भी पुलिस पकड़ से बाहर है। हाईकोर्ट ने सरकार पक्ष के जवाब से असंतोष जताया है। हाईकोर्ट ने बुधवार को प्रमुख सचिव गृह समेत जिलाधिकारी एसराज लिंगम व पुलिस अधीक्षक पवन कुमार को तलब किया है। अधिवक्ताओं ने बताया कि हड़ताल तो खत्म हो गयी है, लेकिन मांगो के समर्थन में उनकी कार्यवाही चलती रहेगी।

Uttar Pradesh, India