टीम इंडिया का कोच न बऩ पाने पर शास्त्री निराश

टीम इंडिया का कोच न बऩ पाने पर शास्त्री निराश

नई दिल्ली: टीम इंडिया के कोच न बनने पर रवि शास्त्री ने नाराज़गी जताई है। रवि शास्त्री ने कहा है कि कोच न बनने पर वह बहुत निराश हैं। शास्त्री ने यह खुलासा किया है कि उनके इंटरव्यू के दौरान वहां सौरभ गांगुली मौजूद नहीं थे, वह बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन किसी मीटिंग में व्यस्त थे। शास्त्री का कहना है कि पिछले 18 महीने में उन्होंने टीम के लिए काफी मेहनत की थी और उनके समय में टीम ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। शास्त्री का कहना है पिछले 18 महीने में टीम में काफी कुछ बदलाव आया है। युवा खिलाड़ियों के अंदर एक परिवर्तन देखने को मिल रहा है।
शास्त्री ने बताया कि उनका वह इंटरव्यू काफी अच्छा हुआ था। सचिन तेंदुलकर,वीवीएस और बीसीसीआई के संयोजक संजय जगदाले ने उनका इंटरव्यू लिया, कई शानदार सवाल पूछे गए। अनिल कुंबले के कोच बनने पर रवि शास्त्री ने कहा कि कुंबले के सामने एक शानदार टीम है और अब उनका काम है इस टीम को आगे ले जाना। आप को याद दिला दें कि 23 जून को कोच के पद के लिए इंटरव्यू हुआ था। अनिल कुंबले, रवि शास्त्री, प्रवीण आमरे के साथ-साथ कई खिलाड़ियों का इंटरव्यू लिया गया था। कुछ महीने पहले यह अटकलें लगाई जा रही थीं, टीम डायरेक्टर के रुप में सफल रवि शास्त्री टीम इंडिया के कोच बन सकते हैं। लेकिन अनिल कुंबले कोच के रेस में आने के बाद समीकरण बदल गया था। सचिन तेंदुलकर, सौरभ गांगुली और वीवीएस लक्षण ने टीम इंडिया के कोच के लिए अनिल कुंबले के नाम पर मोहर लगाई थी।