साइकिल और राजनीति की सवारी एक समान: अखिलेश

साइकिल और राजनीति की सवारी एक समान: अखिलेश

मुख्यमंत्री ने लखनऊ में  साइकिल ट्रैक का लोकार्पण किया 

लखनऊ, (इंस्टेंट खबर ब्यूरो)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने साइकिल की सवारी और राजनीति चलाने को समान करार देते हुए कहा है कि दोनों में संतुलन का होना बेहद जरूरी है। यादव ने रविवार को रिमझिम बारिश के बीच कालीदास मार्ग में साइकिल ट्रैक का उदघाटन करते हुए कहा कि साइकिल चलाना और राजनीति चलाना एक समान है। दोनों मे बैंलेंस बेहद जरूरी होता है। यदि इनमे हल्की भी चूक हुई तो गिरना तय है। 

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने साइकिल से चंद कदम का सफर भी तय किया। उन्होंने कहा कि साइकिल स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ पर्यावरण संतुलन बनाए रखने में मददगार है। साइकिल चलाने वाले घुटनों की बीमारी, रक्तचाप और मधुमेह जैसी तमाम बीमारियों से दूर रहते हैं। साइकिल से प्रदूषण नहीं फैलता और इससे पर्यावरण की रक्षा होती है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि साइकिल को शहरी यातायात के मुख्य संसाधनों में शामिल किए जाने की जरूरत है। उनकी कोशिश है कि राज्य के हर जिले में साइकिल ट्रैक का निर्माण किया जाए। इसी कड़ी में लखनऊ के बाद ताज नगरी आगरा में साइकिल ठ्रैक का निर्माण जल्द किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि साइकिल ट्रैक के निर्माण के दौरान उन्होंने अधिकारियों को सख्त हिदायत दी थी कि निर्माण कार्य मे बाधित हरे वृक्षों को बचाने पर पूरा ध्यान रखा जाए और वृक्षों की कटाई कम से कम हो। यादव ने कहा कि वर्षा के कारण साइकिल ट्रैक के विधिवत उदघाटन में हुई कोर कसर को बाद में पूरा किया जाएगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि यद्यपि सभी मार्गों पर स्थान की कमी की वजह से साइकिल ट्रैक बनाना सम्भव नहीं है, किन्तु जहां पर सड़कें चैड़ी हैं, वहां पर इसे बनाया जाना चाहिए। राज्य सरकार फिलहाल लखनऊ और आगरा शहर में साइकिल टैªक बनवा रही है। लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क में भी साइकिल टैªक बनाया जा रहा है। 

साइकिल ट्रैक बनाने वाले इंजीनियरों को बधाई देते हुए श्री यादव ने कहा कि प्राप्त सुझावों को सम्मिलित करते हुए बेहतर काम किया गया है। ट्रैक के निर्माण के दौरान पेड़ों को कम से कम नुकसान पहुंचाया गया है। मुख्यमंत्री ने ट्रैक के निर्माण से जुड़े उपस्थित इंजीनियरों के साथ गु्रप फोटोग्राफ भी खिंचवाया। 

लोक निर्माण मंत्री  शिवपाल सिंह यादव ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि साइकिल चलाने से केवल स्वास्थ्य ही बेहतर नहीं रहता, बल्कि पर्यावरण को भी कोई नुकसान नहीं पहुंचता है। इसमें डीजल या पेट्रोल की कोई खपत न होने के कारण बचत होती है और इस पर महंगाई का कोई असर भी नहीं पड़ता। उन्होंने भरोसा जताया कि साइकिल टैªक लखनऊवासियों के लिए बहुत लाभदायक साबित होगा। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India