लखनऊ में दिनदहाड़े हत्या व लूट की सनसनीखेज़ वारदात

लखनऊ में दिनदहाड़े हत्या व लूट की सनसनीखेज़ वारदात

तीन लोगों की हत्या कर बदमाश एटीएम का कैश लूटकर भाग निकले

लखनऊ: डालीगंज इलाके में शुक्रवार दोपहर दिनदहाड़े बाइक सवार दो बदमाशों ने एक निजी बैंक के एटीएम के बाहर खड़े दो गार्डों व एक कर्मचारी की हत्या करके लगभग एक करोड रुपये कैश से भरा बक्सा लूट लिया। कैश वैन के ड्राइवर को हिरासत में ले लिया गया है और पूछताछ चल रही है, दो अन्य कर्मचारी के घायल होने की सूचना है।

राजधानी के डालीगंज क्षेत्र के व्यस्त बाजार में आज दिन में करीब एक बजे एक निजी बैंक के एटीएम में कैश डालने के लिए सुरक्षा गार्ड अरुण व अनवीश के के साथ लोडर अनिल पहुंचे। यह लोग वैन से कैश बैग लेकर एटीएम में जा ही रहे थे कि एक बाइक पर सवार तीन बदमाश पहुंचे। इन लोगों ने दोनों गार्ड पर फायरिंग की और एटीएम में चले गये। वहां पर लोडर को गोली मारने के बाद बैग छीन लिया। व्यस्त बाजार से यह तीनों बैग लेकर बाइक से भाग गये। गोली लगने से इस लोडर अनिल की मौके पर ही मौत हो गई जबकि दोनों गार्ड अरुण व अवनीश ने अस्पताल में जाकर दम तोड़ दिया। 

गोलियों की तड़तड़ाहट सुनकर व्यापारी व स्थानीय लोग भौंचक रह गए, बाइक सवार नकाबपोश व असलहों से लैस बदमाश बिना किसी रोकटोक के कैश बॉक्स लूटकर भरे बाजार से आसानी से भाग निकले। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस तफ्तीश में जुटी है।

हसनगंज के चरही के पास एचडीएफसी बैंक का एटीएम है। वहां पर शुक्रवार दिन में कर्मचारी व गार्ड एटीएम मशीन में कैश डालने के लिए पहुंचे थे। उसी दौराना बाइक सवार दो बदमाश हाथों में असलहे लिए हुए वहां पहुंचे। उन लोगों ने बिना समय गवाएं तुरंत ही एटीएम के बाहर खड़े दोनों गार्डों को गोलियों से भून दिया।

बताया जाता है कि एसएमएस सिक्योरिटी कंपनी के गार्ड सीतापुर निवासी अरुण कुमार सिंह (42) व अवनीश कुमार शुक्ला (40) और गोमती नगर विराज खण्ड निवासी कस्टोडियन अनिल मिश्रा (40) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। जाकि एटीएम में पहले से तैनात गार्ड आलोक चंद्रा को कैश डालने आए स्टाफ ने बाहर कर दिया था।

बदमाश कैश बॉक्स लूटकर बाइक पर ही असलहा लहराते हुए रामाधीन कॉलेज की ओर भाग निकले। इलाके के लोग दहशत में है। मौके पर पहुंची हसनगंज पुलिस व अन्य अधिकारियों ने तफ्तीश शुरू कर दी है। इलाके में इतनी बड़ी वारदात होने पर लोग दहशत में हैं। पूरे इलाके में दुकानें बंद हो गई हैं। घनी आबादी में इतनी बड़ी वारदात होने पर लोग खुद को सुरक्षित नहीं महसूस कर रहे हैं। लोगों का कहना है कि बदमाश आसानी से वारदात करके फरार हो गए और पुलिस उन्हें पकड़ भी नहीं सकी। हालांकि पुलिस इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरों व सर्विलांस के जरिए बदमाशों तक पहुंचने की कोशिश में जुटी है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India