डिफाल्टर मिलों पर दर्ज होगी एफआईआर: गन्ना आयुक्त

डिफाल्टर मिलों पर दर्ज होगी एफआईआर: गन्ना आयुक्त

चीनी मिलों को गन्ना मूल्य भुगतान में तेजी लाने के निर्देश

लखनऊ: प्रदेश के गन्ना आयुक्त सुभाष चन्द शर्मा ने वर्तमान पेराई सत्र में गन्ना मूल्य भुगतान में अपेक्षित समयबद्धता का पालन न करने वाली चीनी मिल के अधिकारियों को कड़े शब्दों में निर्देशित किया कि एक सप्ताह के भीतर गन्ना मूल्य भुगतान की स्थिति ठीक करें अन्यथा उनको आवंटित गन्ने की मात्रा दूसरी चीनी मिलों को डायवर्ट कर दी जायेगी। श्री शर्मा आज मुख्यालय पर गन्ना मूल्य भुगतान की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे।

श्री शर्मा ने कहा कि भुगतान में रूचि न लेने वाली खराब मिलों के विरूद्ध वसूली प्रमाण-पत्र एवं अफ0आई0आर0 दर्ज कराकर विधिक कार्रवाई भी अमल में लाई जायेगी। बैठक में बताया कि कि अब तक प्रथम किश्त में 240 रुपये प्रति कुन्तल की दर से 14 दिन पूर्व के कुल देय 10138.76 करोड़ रुपये के सापेक्ष 6545.46 करोड़ रुपये का भुगतान गन्ना किसानों को हो गया हैे जो कुल देय का 64.56 प्रतिशत है। पिछले पेराई सत्र 2013-14 का बकाया अब मात्र 555 करोड़ शेष रह गया है, इसका भी अनुश्रवण गन्ना आयुक्त ने किया और बकायेदार 09 चीनी मिलों के प्रतिनिधियों को कड़ी ताकीद की। 

Lucknow, Uttar Pradesh, India