न्यूजीलैंड के हाथो इंग्लैंड की शर्मनाक हार

न्यूजीलैंड के हाथो इंग्लैंड की शर्मनाक हार

वेलिंगटन। वर्ल्ड कप 2015 के ग्रुप-ए के बड़े मुकाबले में न्यूजीलैंड ने कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम और टिम साउदी के शानदार प्रदर्शन की मदद से इंग्लैंड को बुरी तरह से हरा दिया। कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम की ताबड़तोड़ पारी की मदद से न्यूजीलैंड ने इंग्लैंड को 8 विकेटों से मात दी है। मैक्कुलम ने इंग्लैंड की गेंदबाजी को तहस नहस करते हुए 24 गेंदों पर 77 रन बनाए। मैक्कुलम को क्रिस वोक्स ने फुलटॉस गेंद पर बोल्ड किया। लेकिन आउट होने से पहले उन्होंने अपनी पारी में आठ चौके और सात छक्के जड़े। 

मैक्कुलम की इस आतिशी पारी की मदद से 123 रनों के छोटे से लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम ने आसानी से जीत दर्ज कर ली। मैक्कुलम के अलावा मार्टिन गुपटिल (22) को भी वोक्स ने ही पवैलियन भेजा। वहीं रॉस टेलर (4) और केन विलियमसन (9) रन बनाकर नाबाद रहे। न्यूजीलैंड ने ये मैच 226 गेंद रहते ही मैच जीत लिया।

इससे पहले वर्ल्ड कप 2015 के ग्रुप ए के मुकाबले में टॉस जीतकर पहले खेलने उतरी इंग्लैण्ड की टिम साउदी की जोरदार गेंदबाजी के आगे 123 रन पर ढेर हो गई। साउदी ने 33 रन देकर सात विकेट झटके। इंग्लैण्ड की ओर से जो रूट ने सबसे ज्यादा 46 रन बनाए। 

टॉस जीतकर पहले खेलने इंग्लिश टीम की शुरूआत एक बार फिर खराब रही। सलामी बल्लेबाज इयान बेल केवल आठ रन बनाकर टिम साउदी की गेंद पर बोल्ड हो गए। थोड़ी ही देर बाद साउदी ने मोईन अली को 20 रन पर बोल्ड कर चलता कर दिया। तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे गैरी बैलेंस भी केवल 10 रन बना पाए और ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर केन विलियम्सन को कैच थमा बैठे। 

इसके बाद जो रूट और इयॉन मॉर्गन ने चौथे विकेट के लिए 47 रन जोड़े, इस समय लग रहा था कि दोनों बल्लेबाज टीम को मुश्किल से बाहर निकाल ले जाएंगे। डेनियल वेटोरी ने मॉर्गन को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। मॉर्गन ने 17 रन बनाए। अगले ही ओवर में साउदी ने जेम्स टेलर को खाता भी नहीं खोलने दिया और विकेट के पीछे लपका दिया। 

इसके बाद तो साउदी ने इंग्लिश गेंदबाजों को क्रीज पर टिकने ही नहीं दिया। उनकी घातक गेंदबाजी के चलते इंग्लिश टीम ने केवल 19 रन में अपने अंतिम सात विकेट गंवा दिए। एक समय इंग्लैण्ड का स्कोर तीन विकेट पर 104 रन था और इसके बाद 123 रन पर पूरी टीम सिमट गई। इंग्लैण्ड के अंतिम बल्लेबाजों टेलर(0), जोस बटलर(3), क्रिस वोक्स(1), स्टुअर्ट ब्रॉड(4) और स्टीवन फिन(1) में से कोई भी दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर पाया।  

दोनों टीमों का यह दूसरा मैच है। न्यूजीलैण्ड ने अपने पहले मैच में श्रीलंका को हराया था जबकि इंग्लैण्ड को ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार झेलनी पड़ी थी।