मांझी का कैबिनेट प्रस्ताव ख़ारिज

मांझी का कैबिनेट प्रस्ताव ख़ारिज

पटना। बिहार के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने सीएम मांझी को बड़ा झटका देते हुए उनके कैबिनेट विस्तार के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। राज्यपाल ने यह प्रस्ताव सो मवार को खारिज किया है। गौरतलब है कि रविवार को नई दिल्ली में मांझी घोषणा की थी कि वे अपने कैबिनेट का विस्तार करेंगे। क्योंकि नीतीश समर्थक 20 मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। मांझी ने सोमवार दोपहर ही राज्यपाल से मुलाकात कर अनुरोध किया था कि उन्हें सदन में अपना बहुमत साबित करने का मौका दिया जाए। 

वहीं दूसरी ओर पार्टी ने सोमवार को मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी को छह साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया। जद (यू) के मुख्य सचेतक श्रवण कुमार ने यह जानक ारी दी। उन्होंने बताया, जद (यू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए मांझी को निष्कासित कर दिया। इसके साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। नीतीश के साथ राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव और जदयू प्रमुख शरद यादव भी थे। पूर्व म ुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने राज्यपाल से कहा कि वह फैसला लेने में देरी नहीं करें। हमारे पास 130 विधायकों का समर्थन हासिल है। 

इसके अलावा बिहार विधानसभा स्पीकर उदयनारायण ने जीतन राम मांझी को असंबद्ध घोषित कर दिया है। यानी अब वह किसी पार्टी के सदस्य नहीं, सिर्फ एक विधायक और मुख्यमंत्री हैं।