प्रदेश की भर्ती प्रक्रिया अफरा-तफरी का शिकार: डाॅ0 मनोज मिश्र

प्रदेश की भर्ती प्रक्रिया अफरा-तफरी का शिकार: डाॅ0 मनोज मिश्र

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश में हो रही भर्ती प्रक्रिया पर अंगुली उठाई है। पार्टी प्रवक्ता डाॅ0 मनोज मिश्र ने आरोप लगाया कि प्रदेश के भर्ती बोर्डो और आयोग में अफरातफरी एवं अराजकता का वातावरण हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भर्तियांें के लिए दो-दो परीक्षाये एक ही दिन आयोजित होने जा रही है। 25 जनवरी को पहले से घोषित माध्यमिक शिक्षा सेवा आयोग की टीजीटी परीक्षा प्रस्तावित है, उसी दिन जानबूझकर उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने कानून गो की  भर्ती परीक्षा घोषित कर दी हैं। लाखों छात्रों का भविष्य इन दोनो बोर्डो /आयोग के कारण फस गया है।

प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 मिश्र ने आरोप लगाया कि सरकार युवाओं की भर्ती में रूचि न लेकर मात्र शिगूफे वाजी कर रही है। प्रदेश के सभी बोर्ड/आयोग भ्रष्टाचार के आरोप से आरोपित है। अभी कानपुर के चन्द्रशेखर आजाद कृषि विश्व विद्यालय की नियुक्तियों में भी भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। भारतीय जनता पार्टी द्वारा संज्ञान के लाये जाने के कारण प्रदेश के महामहिम श्री रामनाईक द्वारा भर्तियों पर तत्काल रोक लगा दी गयी। पूरे प्रदेश के सभी विभागों में भर्तियांे के मामले में भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे है तथा भर्ती प्रक्रिया में सन्देह के घेरे में रहती है।

प्रवक्ता डाॅ0 मिश्र ने मांग की कि प्रदेश के सभी भर्ती बोर्डो का समन्वय होना चाहिए। एक ही दिन में कई-2 परीक्षाऐं प्रस्तावित होने से अभ्यर्थियों का भविष्य अधर में लटक जाता है। उन्होंने मांग की कि अभ्याथियों के हित को ध्यान में रखते हुए बेहतर और पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया प्रदेश सरकार सुनिश्चित करे। 

डाॅ0 मिश्र ने मांग की कि प्रदेश में पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया न होने से अभ्यार्थियों को संन्देह रहता है। प्रदेश में बडे पैमाने पर भ्रष्टाचार की शिकायतें इस भर्ती प्रक्रिया को सन्देह के घेरे में रखती है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India