जनता की उम्मीदों को जानना होगा

जनता की उम्मीदों को जानना होगा

प्रियंका गांधी ने गिनाई कांग्रेस की कमियां, नेताओं को दी नसीहतें

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की बेटी प्रियंका गांधी ने कांग्रेस को उसकी कमियों से रूबरू कराया। लोकसभा चुनाव में मिली हार के बाद प्रियंका ने कांग्रेस कारयकर्ताओं को पार्टी को मजबूत करने के लिए कई सलाहें भी दीं। यूपी के रायबरेली में शुक्रवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए प्रियंका ने कहा कि पार्टी नेताओं की सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि वे आम जन की आशाओं के बारे में नहीं जान पाते। प्रियंका ने कहा, 'हम यह जानने की कोशिश नहीं करते कि लोग हमसे क्या चाहते हैं। अगर हम लोग उनकी जरूरतों को नहीं जानेंगे तो हम उनके लिए क्या कर सकते हैं? अब समय आ गया है कि हम लोग जनता के साथ मिलक र उनके लिए संघर्ष करें।Ó

प्रियंका गांधी अपनी मां सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली में दो दिन के दौरे पर आईं थी। लोकसभा में कांग्रेस को मिली भारी हार के बाद प्रियंका का यह पहला दौरा था। चुनाव में हार के बाद प्रियंका को कांग्रेस की कमान देने की मांग अकसर पार्टी में उठाई जाती रही हैं, लेकिन प्रियंका ने अपने आपको सक्रिय राजनीति से दूर ही रखा ।

प्रियंका गांधी ने बैठक में भूमि अधिग्रहण अध्यादेश के बहाने मोदी सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, यह अध्यादेश किसानों के पक्ष में नहीं है। इसमें सरकार कि सानों से उनकी मर्जी के बिना ही उनकी जमीन ले सकती है। मैं इस मुद्दे पर उनके लिए संघर्ष करने वाली हूं। लेकिन मैं चाहती हूं कि आप भी इसे बड़े स्तर पर उठाएं । साथ ही प्रियंका ने कहा कि हम लोग सत्ता में नहीं है, ऐसे में हम हमारे समय का सही इस्तेमाल लोगों के नजदीक जाने के लिए कर सकते हैं। हमें मोदी सरकार की कमियों के बारे में लोगों को बताना होगा और अपने अपने क्षेत्रों में इन मुद्दों पर बहस करनी होगी। 

बैठक में प्रियंका गांधी ने कार्यकर्ताओं को सोशल मीडिया का बढ़-चढ़कर इस्तेमाल करने की भी सलाह दी। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार द्वारा जारी की गई जनहित योजनाओं के बारे में लोगों को सोशल मीडिया के जरिए से बताना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा, 'शिक्षा के अधिकार, सूचना का अधिकार और मनरेगा जैसी जनहित जैसी योजनाओं के बारे में सोशल मीडिया पर बड़े स्तर पर लोगों को बताया जाना चाहिए।Ó