ज़हरीली शराब से मृत्यु की घटना पर मुख्यमंत्री गंभीर

ज़हरीली शराब से मृत्यु की घटना पर मुख्यमंत्री गंभीर

कई प्रशासनिक व पुलिस अधिकारीयों को किया निलंबित 

मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखनऊ में जहरीली शराब प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल समीक्षा की। इस समीक्षा बैठक में सम्बन्धित विभाग के उच्च स्तरीय अधिकारी मौजूद थे। उन्होंने इस प्रकरण में सम्बन्धित एस0डी0एम0, सहायक आबकारी आयुक्त (प्रवर्तन), जिला आबकारी अधिकारी, सी0ओ0, थानाध्यक्ष और आबकारी निरीक्षक को तत्काल प्रभाव से निलम्बित करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने घटना में मृतकों के परिजनों के प्रति गहरी सहानुभूति और संवेदना व्यक्त करते हुए दो-दो लाख रुपये की आर्थिक सहायता दिये जाने की घोषणा की है।

श्री यादव ने संयुक्त आबकारी आयुक्त के खिलाफ विभागीय कार्रवाई और आबकारी आयुक्त से स्पष्टीकरण भी तलब किये जाने के निर्देश दिये हैं। मुख्यमंत्री ने इस घटना में बीमार हुए व्यक्तियों के इलाज की समुचित व्यवस्था के निर्देश देते हुए कहा है कि पीडि़त व्यक्तियों को मुफ्त इलाज की सुविधा मुहैया कराई जाये।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि जांच में दोषी पाये जाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाये। उन्होंने कहा कि इस प्रकरण में किसी भी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अवैध आबकारी कारोबार के विरूद्ध अभियान चलाकर इसके लिए जिम्मेदार लोगों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जाये। उन्होंने अवैध मदिरा तथा इससे सम्बन्धित अपराधों के विरूद्ध अभियान चलाने के निर्देश देते हुए पुलिस विभाग को भी सक्रिय सहयोग करने के लिए कहा है। 

श्री यादव ने कहा कि अभियान के दौरान अधिक से अधिक छापे मारे जायें और आबकारी से सम्बन्धित अवैध कार्य में सम्मिलित लोगों को गिरफ्तार किया जाये। उन्होंने कहा कि अन्तर्राज्यीय मदिरा की तस्करी को रोकने के मुकम्मल इन्तेजाम किये जायें। साथ ही, अवैध नकली होलोग्राम को भी पकड़ने का अभियान चलाया जाये।

Lucknow, Uttar Pradesh, India