बहराइच पुलिस की गिरफ्त सात शातिर ठग, फर्जी प्रपत्र, कार, दर्जनो मोबाइल, लैपटाॅप आदि बरामद

रिपोर्ट-रमेश चन्द्र गुप्ता

बहराइच: दरगाह थाने की पुलिस ने निजी व शैक्षिक लोन दिलाने के नाम पर फर्जी कम्पनी खोलकर करोड़ो रूपये ठगने वाले अन्तरजनपदीय ठग गिरोह के सात सदस्यों को जनपद फिरोजाबाद से गिरफ्तार कर जेल रवाना किया। पुलिस टीम ने ठगो के कब्जे से एक कार, एक लैपटाॅप, दर्जन भर मोबाइल व भारी मात्रा में फर्जी प्रपत्र बरामद किये।

पुलिस कप्तान डा0 विपिन कुमार मिश्र ने बताया कि गाजियाबाद व मेरठ में ब्रान्च खोलकर बड़ी संख्या में लोगो को ठगी का शिकार बनाने वाले ठग गिरोह के मास्टर माइंड एजाज उर्फ बाबू चैधरी ने चांदपुरा मोहल्ले के गुल्लावीर रोड पर कियारा माइक्रोक्रेडिट बिजनेस सेल्यूशन नामक फर्जी कंपनी खोली और फर्जी रजिस्ट्रेशन दिखाकर करीब 4 दर्जन से अधिक लोगो को झांसे में लेकर पर्सनल व शैक्षिक लोन दिलाने के बहाने करोड़ो रूपये की ठगी की। इस मामले में मो0 वशीरगंज निवासी सै. मो0 जायर नकवी पुत्र मो0 ताहिर ने थाना दरगाह शरीफ मे लिखित तहरीरी देकर लोन देने वाली कम्पनी पर संदेह जताया। इस बीच भेद खुलने पर कम्पनी व रिहायशी मकान में ताला बन्द कर सभी ठग फरार हो गये थेे। वही ठगी के शिकार लोगो ने 16 सितम्बर को दरगाह थाने में जालसाजी व धोखाधड़ी की धाराओं मेें मुकदमा पंजीकृत कराया।

श्री मिश्र ने बताया कि दरगाह थाना प्रभारी मधुप नाथ मिश्र के नेतृत्व में थाने के एसआई अरविन्द कुमार व स्वाट टीम के एसआई कौसर खान की टीम ने सर्विलांस की मदद से ठगो का पता लगाया और मेरठ जिले के मोहम्मद एजाज उर्फ बाबू चौधरी, शाकिब, मो0 जावेद, इमरान खान, बिलाल चौहान, शादाब व मुजफ्फरनगर जिले के वसीम को फिरोजाबाद से गिरफ्तार किया। पुलिस टीम ने आई-20 कार, एक लैपटाॅप, दर्जन भर मोबाइल सेट, फर्जी आईडी आधा कार्ड, निर्वाचन कार्ड, मोहर, चेकबुक, पम्पलेट, कम्पनी के बैनर व पोस्टर बरामद किये।

ठग गिरोह का मास्टर माइंड एजाज उर्फ बाबू चौधरी गाजियाबाद व मेरठ में ब्रान्च खोलकर लोगो को ठगने के मामले में जेल भी जा चुका है। गिरफ्तार टीम में हे0का0 काजी अफजल, का0 मो0 अख्तर, का0 ज्ञान बहादुर सिंह, सर्विलांस का0 जितेन्द्र यादव, स्वाट टीम का0 रवि यादव, का0 नवनीत मिश्रा व का0 नितिन अवस्थी शामिल रहे।