बुर्किना फासो की राजधानी में आतंकी हमला, 20 की मौत

बुर्किना फासो की राजधानी में आतंकी हमला, 20 की मौत

औगाडौगू : बुर्किना फासो की राजधानी औगाडौगू के एक होटल में आतंकी संगठन अलकायदा के हमले में कम से कम 20 लोगों की मौत हो गई। खबरों के मुताबिक होटल से एक मंत्री सहित 63 बंधकों को छुड़ा लिया गया है।

संयुक्त राष्ट्र के कर्मचारियों और पश्चिमी पर्यटकों के बीच लोकप्रिय इस चार सितारा स्प्लेन्डिड होटल में और पास ही स्थित 'कैप्पचीनो' रेस्तरां में शुक्रवार रात गोलियां चलने और बम विस्फोटों की आवाज सुनाई दीं। बंधक अब तक होटल के अंदर फंसे हैं और बुर्किना फासो की फौजें उन्हें बचाने के लिए हमला करने की तैयारी में हैं।

अधिकारियों ने बताया कि फ्रांसीसी बल होटल में जवाबी कार्रवाई में मदद कर सकते हैं जहां हमलावर अब तक छिपे हुए हैं। नवंबर में माली की राजधानी बमाको के लग्जरी रेडिसन ब्लू होटल में एक जिहादी ने कुछ लोगों को बंधक बनाकर गोलीबारी की थी, जिसमें 14 विदेशियों सहित 20 लोग मारे गए थे।

विदेश मंत्री अल्फा बेरी ने बताया 'हम जानते हैं कि लोग अंदर हैं और उन्हें बंधक बनाया गया है। फिलहाल सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर रखा है और बंधकों को रिहा कराने के लिए हमले का इंतजार कर रहे हैं।' औगाडौगू में होटल के पास करीब दस वाहनों को आग लगा दी गई। यह इलाका शहर के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के करीब ही है।

शहर के मुख्य अस्पताल के प्रमुख ने 20 लोगों के मारे जाने और 15 के घायल होने की पुष्टि की। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि हमलावर अब तक 147 कमरों वाले होटल में छिपे हैं।

कैप्पचीनो के एक कर्मचारी ने किसी तरह फोन पर बताया कि रेस्तरां में कई लोग मारे गए हैं। लेकिन वह मृतक संख्या नहीं बता पाया। अमेरिका स्थित निगरानी समूह एसआईटीई ने बताया कि इस्लामिक मगरेब में अलकायदा ने हमले की जिम्मेदारी ली है।

समूह को एसआईटीई ने यह कहते हुए उद्धृत किया है, 'एआईक्यूएम के 'मुजाहिदीन भाइयों' ने 'बुर्किना फासो की राजधानी के एक बड़े रेस्तरां में प्रवेश किया, जहां उनका मजहब के दुश्मनों के साथ संघर्ष जारी है।'

हमलावरों और होटल के समीप मौजूद सुरक्षा बलों के बीच रुक-रुक कर गोलीबारी की आवाज सुनी जा सकती हैं। इस होटल में अक्सर संयुक्त राष्ट्र के कर्मी ठहरते हैं और प्रवेश द्वार पर ही सुरक्षा जांच होती है।

बेरी ने बताया कि बुर्किना फासो हालात से निपटने में फ्रांसीसी विशेष बलों की मदद ले सकता है जिनकी देश में स्थायी उपस्थिति है। एएफपी के एक संवाददाता ने पगड़ी पहने तीन व्यक्तियों को औगाडौगू के एवेन्यू क्वामे क्रूमाह में गोलीबारी करते देखा।